/>

Breaking

Monday, February 22, 2021

एक ही दिन में 3 ठगी:वेटरनिटी चिकित्सक समेत तीन उपभोक्ताओं के खाते से ठग ने निकाले सवा 2 लाख रुपए

एक ही दिन में 3 ठगी:वेटरनिटी चिकित्सक समेत तीन उपभोक्ताओं के खाते से ठग ने निकाले सवा 2 लाख रुपए

कुरुक्षेत्र : साइबर ठग पुलिस व आमजन के लिए परेशानी का सबब बने हैं। भले की करीब 20 दिन पहले जिला पुलिस में साइबर ठगी पर रोक लगाने के लिए साइटर इन्वेस्टिगेशन यूनिट बनाई है। इसके बावजूद जिले में साइबर ठग रोजाना लोगों को नए-नए तरीकों से ठग रहे हैं।
ठगों ने जिले में एक वेटरनिटी चिकित्सक सहित तीन उपभोक्ताओं को बातों में उलझाकर सवा दो लाख रुपए की चपत लगा दी। शिकायत पर पुलिस ने धोखाधड़ी का केस दर्ज कर ठगों की तलाश शुरू की है। उधर बैंक अधिकारियों व पुलिस अधिकारियों का कहना है, जबतक आमजन खुद जागरूक नहीं होगा। तब तक ऐसी ठगी रोकना संभव नहीं।
जानकारी के अभाव में हो रहे लोग ठगी का शिकार-एलडीएम लीड बैंक मैनेजर राजीव रंजन का कहना है,जागरुकता के अभाव में लोग रोजाना ठगी का शिकार हो रहे हैं । कभी भी अनजान व्यक्ति के कहने या भेजे गए किसी लिंक पर क्लिक न करें।
इसके अलावा पब्लिक टर्मिनल और पब्लिक वाईफाई के प्रयोग से मोबाइल ट्रांजक्शन करने से बचना चाहिए। अनसेफ सर्फिंग के कारण ठग डाटा चोरी कर सकते हैं। ठग नेट पर एक जैसे दिखने वाले लोगो व डोमेन ने के साथ फर्जी साइट बना लेते हैं। जो दिखने में असली लगती है।
साइबर इन्वेस्टिगेशन यूनिट के इंचार्ज सब इंस्पेक्टर सुभाष चंद का कहना है, उन्होंने कुछ रोज पहले ही चार्ज संभाला है। उन्होंने कहा आमजन की जागरुकता बेहद जरूरी है। किसी तरह की लॉटरी या अन्य लालच में न आएं।
पब्लिक वाईफाई के प्रयोग से मोबाइल ट्रांजक्शन करने से बचें,सैलरी डालने के बहाने निकाले खाते से पैसे
दुर्गा कॉलोनी निवासी एक वेटरनिटी चिकित्सक के बेटे के मोबाइल नंबर पर अनजान नंबर से कॉल आई। फोन करने वाले ने अपना नाम गगनदीप बताया। साथ ही बातों में उलझाकर कहा आपके पिता के खाते में इस माह कम सैलरी आई होगी। कॉल करने वाला कहने लगा, सैलरी सेटल करनी है, अपके पिता जी के खाते में सैलरी डालनी है। उनके खाते के साथ ही मोबाइल नंबर अटैच है।
आप फोन पे एप खोलकर उसपर पे ऑप्शन ओके कर दो। जैसे ही कॉल करने वाले व्यक्ति द्वारा बताए अनुसार किया, तो शिकायतकर्ता के वेटरनिटी चिकित्सक पिता के खाते से 7650 रुपए कट गए। कॉल करने वाले ने एक बार और पे ऑफ फोन ऑप्शन ओके करने को कहा, इस तरीके से दूसरे खाते से भी 89999 रुपए यानी कुल 97 हजार 649 रुपए कट गए। बाद में ठगी का एहसास होने पर बैंक को सूचित किया। साथ ही पुलिस को सूचित किया। जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर इल्म सिंह का कहना है, शिकायत पर केस दर्ज कर जांच शुरू की है।
*कस्टमर केयर पर किया फोन, कट गए खाते से पैसे*
इसी तरह सेक्टर-सात निवासी यमन ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। उसने पीएनबी कस्टमर केयर नंबर-180042123530 पर कॉल कर कॉल कर अपने खाते की लिमिट बढ़ाने के लिए फोन किया था। शिकायतकर्ता का कहना है, कॉल उठाने वाले अधिकारी द्वारा डेबिट कार्ड का पूछा गया नंबर उसने उसे बता दिया। शाम के चार बजे के करीब मोबाइल पर खाते से एक लाख चार हजार रुपए निकले का मैसेज आया। यह देख बैंक में संपर्क किया। यह पैसा पेटीएम के जरिए खाते से निकाला गया है।
*जानकार बता पैसे भेजने को कहकर लिंक पर कराया क्लिक*
भिवानी के गांव सांगवान निवासी संजय कुमार ने शाहाबाद थाने में शिकायत दर्ज करवाई है। वह मोहड़ी केसरी रोड पर एक कंपनी में काम करता है। उसके मोबाइल नंबर पर एक अनजान नंबर से कॉल आई। फोन करने वाले ने बातों में उलझा लिया। बोला कि आपके पास रणजीत नाम के व्यक्ति का फोन आएगा। जो आपके मोबाइल पर पैसे ट्रांसफर करेगा। कुछ देर बाद एक और नंबर से कॉल आई। फोन करने वाले ने एक लिंक भेजकर उसे खोलने बारे कहा। जैसे ही शिकायतकर्ता ने उस लिंक पर क्लिक किया, उलटा उसके ही खाते से साढ़े 12 हजार रुपए कट गए।

No comments:

Post a Comment