/>

Breaking

Saturday, February 13, 2021

खानपान में सावधानी बरतें और जंग फूड का प्रयोग न करें और देशी खानपीन का प्रयोग करें : डॉ. भोला

खानपान में सावधानी बरतें और जंग फूड का प्रयोग न करें और देशी खानपीन का प्रयोग करें : डॉ. भोला









जींद : ( संजय तिरँगाधारी ) हरियाणा योग आयोग हरियाणा एवं हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद हरियाणा के संयुक्त तत्वाधान में जिले के सभी पीटीआई और डीपीई का सात दिवसीय योग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन डीएवी स्कूल में किया गया। योग प्रशिक्षण शिविर 13 फरवरी से 19 फरवरी तक चलेगा। जिसमें पिल्लूखेड़ा, जुलाना व सफीदों ब्लॉक के 105 अध्यापक प्रशिक्षण लेंगे। जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर सामान्य अस्पताल के डिप्टी मैडिकल आफिसर डा. राजेश भोला ने शिरक्त की। योग शिविर में हरियाणा योग आयोग जींद के कॉडिनेटर रामनारायण आर्य ने कहा कि स्वामी रामदेव व हरियाण योग आयोग के चेयरमैन जयदीप आर्य के प्रयासों से योग प्रशिक्षण शिविर चल रहा है और आगामी 2021-22 से हरियाणा के सरकारी सभी स्कूलों में विषय के तौर पर लागू किया जा रहा है। इस कड़ी में जिला जींद में भी जिला मुख्यालय पर तीन चरणों में हरियाणा योग आयोग द्वार प्रशिक्षण डीएवी स्कूल में सुबह साढ़े सात बजे शाम साढ़ चार बजे तक दिया जा रहा है। 


डा. राजेश भोला ने अध्यापकों को प्राथमिक उपचार के बारे में ट्रेनिंग दी। उन्होंने कहा कि फस्र्ट एड के बारे में प्रत्येक व्यक्ति को जानकारी हासिल करनी चाहिए। प्राथमिक उपचार (फस्र्ट एड) की जानकारी हासिल करके किसी भी मुसीबत में फंसे व्यक्ति की जान बचा सकते हैं। किसी भी हादसे के बाद किस प्रकार से प्राथमिक सहायता दी जाती है, उसके बारे में जान सकते हैं। घायल व्यक्ति को कैसे एम्बुलैंस के माध्यम से अस्पताल में पहुंचाया जा सकता है। इसके स्वास्थ्य विभाग की तरफ से टोल फ्री 108 की सुविधा दी गई है। जिसे किसी भी आपतकालीन स्थिति में फंसा व्यक्ति कॉल कर निशुल्क सुविधा ले सकता है। इसके साथ-साथ आधुनिक युग में बदलती हुई बीमारियों के बारे में भी हाईपेटैंशन, शुगर, हैपेटाइटिस, एचआईवी एडस, कैंसर के विषय में भी बारिकी से बताया। उन्होंने कहा कि खानपान में भी सावधानी बरतें और जंग फूड का प्रयोग न करें और देशी खानपीन का प्रयोग करें। 

डीएवी स्कूल के प्राचार्य डा. धर्मदेव विद्यार्थी ने कहा कि योग शिविर से व्यक्ति को स्वस्थ रहने की प्रेरणा मिलती है। वहीं आपसी भाईचार व राष्ट्र निर्माण की भावना को भी बढ़ावा मिलता है। उन्होंने कहा कि अध्यापकों को जो ये प्रशिक्षण शिविर था वह पिछले एक साल से चल रहे कोरोना काल के दौरान जहां एकतरफ चिकित्सक, पुलिस, प्रशासन व सफाई कर्मियों को कोरोना योद्धा के तौर पर बताया गया। डा. धर्मदेव विद्यार्थी ने इनके अलावा अध्यापकों को भी कोरोना योद्धा की संज्ञा दी। जिन्होंने ऑन लाइन माध्यम से बच्चों को शिक्षा व जागरूक किया। सूर्य देव आर्य व राजेश बिरौली ने अध्यापकों को नशे से दूर रहने की शपथ दिलाई और हर रोज योग करने की भी शपथ दिलाई। इस अवसर पर राजेश कुमार भारद्वाज, सूर्यदेव आर्य, रामनारायण आर्य, राममेहर एबीआरसी, विरेंद्र आर्य, प्रेम सिंह देशवाल, उदय सिंह आदि मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment