/>

Breaking

Thursday, May 13, 2021

आयुष्मान योजना में विधायक सुभाष सुधा का नाम, विपक्ष ने बोला हमला

आयुष्मान योजना में विधायक सुभाष सुधा का नाम, विपक्ष ने बोला हमला

कुरुक्षेत्र : आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में थानेसर के विधायक सुभाष सुधा  का नाम होना चर्चा का विषय बन गया है। यह लिस्ट आप नेता एडवोकेट जवाहर गोयल द्वारा सोशल मीडिया पर वायरल की गई, जिसमें विधायक का नाम शामिल है। ऐसे में सोशल मीडिया पर चर्चा चल रही है कि आखिर विधायक का नाम इस लिस्ट में कैसे आ सकता है। विपक्षी दल इस मुद्दे पर विधायक और सरकार को घेर रहे हैं। लिस्ट में विधायक का नाम किसने दर्ज कराया, विपक्ष यह मुद्दा उठा रहा है। हालांकि लिस्ट वायरल होने के बाद विधायक पुत्र साहिल सुधा मीडिया के सामने आए व कहा कि उन्होने कभी इस आयुष्मान योजना के लिए अप्लाई नही किया। ऐसे में कैसे नाम लिस्ट में आया है उन्हे नही पता। वहीं विधायक पुत्र ने कहा कि बेशक आयुष्मान योजना की लिस्ट में नाम है लेकिन उन्होने न तो कभी केवाईसी बनवाया और न ही कभी योजना का लाभ उठाया। साहिल सुधा ने कहा कि पिछले कई सालों से इंश्योरेंस कंपनी की पॉलिसी उन्होने ले रखी है व उसी के तहत वे इलाज करवा रहे हैं।

वहीं दूसरी ओर डीआईपीआरओ की तरफ से भी एक प्रेस नोट भेजा गया हैं जिसमें डिप्टी सीएमओ रमेश सभ्रवाल ने इसमें स्पष्टीकरण दिया है कि विधायक सुभाष सुधा ने आयुष्मान के लिए आवेदन नहीं किया और ना ही इसका लाभ उठाया है। भाजपा की सहयोगी पार्टी जननायक जनता पार्टी की टिकट पर थानेसर से चुनाव लड़ चुके योगेश शर्मा ने अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दी है। इसके साथ-साथ आम आदमी पार्टी की टिकट पर चुनाव लड़ चुके सुमित हिंदुस्तानी ने भी स्थानीय विधायक पर खूब निशाना साधा है। चर्चा इस बात की है कि थानेसर के विधायक 2014 से थानेसर के विधायक हैं और सर्वे 2011 का दिखाया गया है। जबकि 2009 में सुभाष सुधा थानेसर से आजाद उम्मीदवार के रूप में चुनाव जीत चुके हैं। 1995 में सुभाष सुधा नगर परिषद के चेयरमैन चुने गए थे और 2005 से अब तक सुभाष सुधा की पत्नी उमा सुधा नगर परिषद थानेसर की चेयरपर्सन हैं। ऐसे में कैसे सुभाष सुधा का नाम आयुष्मान योजना की लिस्ट में डाला गया है, यह चर्चा है।

No comments:

Post a Comment