/>

Breaking

Wednesday, May 12, 2021

जींद वालों की जेब पर सिविल अस्पताल डाल रहा डाका, मरीजों से हो रही है

जींद वालों की जेब पर सिविल अस्पताल डाल रहा डाका, मरीजों से हो रही है 300 रु की अवैध वसूली



जींद : सिविल अस्पताल में सिटी स्कैन की राशि के साथ मरीजों से पीपीई किट के नाम पर 300 रुपए प्रति मरीज वसूले जा रहे हैं। सिटी स्कैन करने वाले कर्मचारियों का कहना है कि अधिकारियों के आदेश पर ऐसा किया जा रहा है, जबकि स्वास्थ्य विभाग ने ऐसे किसी आदेश के न होने की बात कही है।


पीपी माेड पर सिविल अस्पताल में खुले सिटी स्कैन सेंटर पर प्रतिदिन 30 से 40 मरीजों का सिटी स्कैन हाेता है। इसके लिए प्रति मरीज 2800 रुपए लिए जाते हैं, जबकि बीपीएल के लिए फ्री होता है, लेकिन पिछले कुछ दिनों से सिटी स्कैन सेंटर पर बैठे कर्मचारी प्रति मरीज सिटी स्कैन के 2800 रुपए के साथ-साथ 300 रुपए पीपीई किट के ले रहे हैं। ऐसे में प्रतिदिन लगभग 12 से 15 हजार रुपए अतिरिक्त कमाई की जा रही है, ऐसे में मरीजों की जेब पर सरेआम डाका डाला जा रहा है। एक तरफ मरीज पहले ही कोरोना व सांस की दिक्कत से परेशान होकर सिटी स्कैन कराने पहुंचते हैं। ऊपर से सिटी स्कैन सेंटर के कर्मचारी पीपीई किट के नाम पर उनसे 300 रुपए ज्यादा वसूल रहे हैं।
रोहतक रोड निवासी विनोद कुमार सिटी स्कैन कराने सेंटर पर पहुंचे थे। उन्होंने 15 दिन पहले सिटी स्कैन कराया था। जब उनसे 2800 रुपए लिए गए थे। 300 रुपए अतिरिक्त लिए गए। पूछने पर बताया गया कि 300 रुपए पीपीई किट, सेनिटाइज करने के लिए जा रहे हैं। यह कंपनी का आदेश है। विनोद कुमार ने इसका विरोध किया तो कर्मचारियों ने यह राशि वापस कर दी। इस दौरान विनोद कुमार ने पूरे मामले की वीडियोग्राफी भी कर ली। सिटी स्कैन भी कोई टेक्नीशियन नहीं चला रहा था बल्कि सिक्योरिटी गार्ड चला रहा था और उसने भी किसी प्रकार की पीपीई किट नहीं पहनी हुई थी।
इस मामले में जींद सीएमओ डॉ. मनजीत सिंह ने कहा कि सिटी स्कैन सेंटर में सिर्फ सिटी स्कैन की राशि ली जा सकती है। इसके अलावा कोई चार्ज नहीं लिया जा सकता। यदि कोई चार्ज लिया जा रहा है तो वह पूरी तरह से गलत है। इस मामले में कार्रवाई करेंगे।

No comments:

Post a Comment