/>

Breaking

Wednesday, September 15, 2021

कंटीली तारों को फांदकर बाल कलाम आश्रम से दो किशोरी फरार

कंटीली तारों को फांदकर बाल कलाम आश्रम से दो किशोरी फरार
जींद ÷ (संजय कुमार ) = डीसी कालोनी स्थित बाल कलाम आश्रम से सोमवार शाम को स्टाफ सदस्यों को चमका देकर दस फीट ऊंची दीवार व कंटीली तारों को फांदकर दो किशोरी फरार हो गई। इसका पता लगते ही आश्रम में हड़ंकप मच गया। सूचना पाकर महिला एवं बाल विकास व सीडब्ल्यूसी के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए और स्थिति का जायजा लिया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और आश्रम में लगे सीसीटीवी को खंगाला। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। गायब हुई एक लड़की बिहार व दूसरी असम की रहने वाली है। दोनों लड़कियों को एक सप्ताह पहले ही लाकर आश्रम में छोड़ा था और विभाग द्वारा दोनों लड़कियों की काउंसलिंग की जा रही थी। इसी बीच में वह मौका पाकर वहां से फरार हो गई। मंगलवार सुबह सीडब्ल्यूसी के पूर्व सदस्य अनिल लाठर को एक किशोरी बस स्टैंड गेट के पास घूमती हुई नजर आई। पूर्व सदस्य ने किशोरी को पहचान 
लिया और नजदीक खड़ी पुलिस पीसीआर को पूरी जानकारी दी। पीसीआर में तैनात कर्मचारियों की सहायता से किशोरी को वापस बाल कलाम आश्रम में लाया गया, जहां उसकी काउंसलिंग की गई। पुलिस ने भी किशोरी से पूछताछ की। दोनों किशोरियों के गायब होने के मामले में आश्रम पर भी सवाल 
उठ रहे हैं। स्टाफ होने के बावजूद किशोरियां चमका देने में कामयाब हो गई। यही नहीं जिला बाल संरक्षण अधिकारी कार्यालय के कर्मचारी भी आधे घंटे पहले ही आश्रम में काउंसलिंग करके गए थे। उनके जाते ही दोनों किशोरी बाहर ग्राउंड में घूमने के लिए निकली थी।
*-एक-दूसरे की सहायता से फांदी दीवार-*
किशोरी ने बताया कि दूसरी किशोरी के साथ मिलकर वह भागी थी। पहले ऊपर एक किशोरी दूसरे की सहायता से चढ़ी और फिर ऊपर चढ़ी किशोरी ने नीचे से दूसरी को खींचकर ऊपर चढ़ाया। कंटीले तारों से निकलने के दौरान एक किशोरी के कपड़े उसमें फंस गए और उसका कुछ हिस्सा तारों में भी उलझ गया था। पूछताछ में किशोरी ने बताया कि दूसरी युवती उसे लेकर पहले आसपास घूमती रहती और फिर अंधेरा होते ही उसे गोहाना रोड के आसपास बैठाकर कुछ देर में आने की बात कहकर चली गई, लेकिन उसके बाद वह वापस नहीं लौटी। फिलहाल पुलिस दूसरी किशोरी की तलाश कर रही है।
-पूरी रात सड़कों पर घूमती रही किशोरी-
पूछताछ में किशोरी ने बताया कि उसके जाने के लिए कोई रास्ता नहीं पता था। वह रात भर इधर-उधर घूमती रही, लेकिन दूसरी लड़की वापस नहीं आई। 
सुबह होने पर वह किसी तरह बस स्टैंड के पास पहुंच गई, लेकिन इसी दौरान सीडब्ल्यूसी के पूर्व सदस्य ने उसे देख लिया और वापस ले आए।
सीसीटीवी में कैद हुई दोनों
आश्रम में लगे सीसीटीवी में दोनों किशोरी ग्राउंड में घूमती नजर आती है, लेकिन कुछ देर में सीसीटीवी से ओझल हो जाती है। इसी दौरान पिछली दीवार 
को फांदकर डीसी कालोनी की तरफ उतर जाती है।
*वर्जन*
किशोरियों के गायब होने की सूचना मिली थी। सुबह वह आश्रम का दौरा करके रिपोर्ट लेकर आई है। इसमें से एक लड़की मिल चुकी है। उससे पूछताछ की गई तो बताया कि दूसरी लड़की आने की बात कहकर गई, लेकिन वापस नहीं आई।
सुजाता, जिला बाल संरक्षण अधिकारी, जींद

No comments:

Post a Comment