/>

Breaking

Showing posts with label public news. Show all posts
Showing posts with label public news. Show all posts

Tuesday, November 9, 2021

November 09, 2021

गंदा व मिट्टी युक्त पानी व सीवर की समस्या से ग्रस्त है जींद : गणेश कौशिक

*गंदा व मिट्टी युक्त पानी व सीवर की समस्या से ग्रस्त है जींद : गणेश कौशिक*                       
जींद :  जींद शहर में जन सुविधाओं का सर्वथा अभाव है जो थोड़ी बहुत जन सुविधाएं हैं। वह भी समस्या से ग्रस्त है। जन सुविधाओं के नाम पर नकारा ट्रैफिक व्यवस्था टूटी फूटी सड़कें, गंदा पानी , पीने योग्य पानी न होना व सीवर की समस्या जगह-जगह गंदगी के कूड़े के ढेर लगता है कि प्रशासन व नगर परिषद गहरी नींद सोया हुआ है।
विकास के नाम पर भी जींद ठेंगा दिखा रहा है। उक्त विचार आप पार्टी के मीडिया प्रभारी व संयोजक सिटीजन वेलफेयर एसोसिएशन जींद डॉ. गणेश कौशिक ने व्यक्त किए।                          
उन्होंने विशेष तौर पर शहर की न्यू हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी कि गंदा व  मिट्टी वाला पानी तथा सीवरों के ओवरफ्लो की समस्या को ले करके कहा कि 1990 में जब से शिव कॉलोनी के साथ लगता हुआ
 न्यू हाउसिंग बोर्ड बना है। तभी से यह समस्याएं भयंकर रूप लेती जा रही है
 मौजूदा कई दिनों से गंदा व मिट्टी से लबालब पानी आ रहा है। पानी बिल्कुल भी पीने योग्य नहीं है। इससे बीमारी फैलने का भी खतरा है। सीवर की समस्या भी विकराल रूप ले चुकी है। जींद की अन्य कॉलोनियों का भी यही हाल है। पूरा जींद इस समस्या से ग्रस्त है। जन स्वास्थ्य विभाग को कई बार इसकी शिकायत भी दी गई। लेकिन यह विभाग गहरी नींद सोया हुआ है। और जनता की जन समस्याओं को लेकर बिल्कुल भी गंभीर नहीं है ।प्रशासन को अविलंब   लोगों को बीमार करने वाली समस्या का समाधान का समाधान तुरंत करना चाहिए। सिटीजन वेलफेयर एसोसिएशन इसकी पुरजोर मांग करती है।अन्यथा आप पार्टी इस गंभीर समस्या का निदान करवाने के लिए संघर्ष करेगी।आम आदमी की तकलीफों को उजागर करने का काम करेगी।

Saturday, October 30, 2021

October 30, 2021

मीडिया क्लब जींद ने कार्यकारिणी की घोषणा की

मीडिया क्लब जींद ने कार्यकारिणी की घोषणा की
--सुरेंद्र कुमार बने मीडिया क्लब के वरिष्ठ उपप्रधान
जींद : ( संजय कुमार ) ÷हरियाणा बुलन्द न्यूज  शनिवार को पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में मीडिया क्लब जींद की बैठक वरिष्ठ पत्रकार केके जैन की अध्यक्षता में हुई। बैठक में प्रधान सतीश जागलान ने अपनी कार्यकारिणी की घोषणा की। 
इसमें सुरेंद्र कुमार को वरिष्ठ उपप्रधान, सन्नी मघु, सतेंद्र पंडित, धर्मबीर, ज्ञान सैनी को उपप्रधान, सुनील मराठा को महासचिव, जोगेंद्र दूहन को सहसचिव, नरेंद्र कुंडू को कोषाध्यक्ष, कुलदीप संधु को प्रैस सचिव बनाया गया। इसके अलावा जसमेर मलिक, राजकुमार गोयल, केके जैन, दलेर सिंह, दिलबाग अहलावत, रमेश सिंगरोहा, अशोक छाबड़ा को मार्गदर्शन मंडल का सदस्य नियुक्त किया गया। कार्यकारिणी सदस्यों में प्रवीण बंसल, राधेश्याम, प्रदीप घोघडिय़ां, दिनेश शर्मा, राजेश जागलान, ललित कुमार, विपिन ग्रोवर, रश्मि, फूल कुमार फोर को शामिल किया गया। बैठक में फैसला लिया गया कि मीडिया क्लब सदस्यता के लिए दस नवंबर तक का समय बढ़ाया जाए। सभी मौजूद सदस्यों ने इसे सर्वसम्मति से पास कर दिया। इसके अलावा सभी सदस्यों को दुर्घटना बीमा करवाने, आईडी कार्ड जारी करने तथा 16 नवंबर को प्रैस दिवस मनाने पर भी विचार किया गया।

Friday, October 29, 2021

October 29, 2021

क्यों न इस बार की दीवाली पर एक नया विचार करें : दीपा शर्मा


क्यों न इस बार की दीवाली पर एक नया विचार करें : दीपा शर्मा
 दोस्तों को मिलें तो बिना गिफ्ट के मिलें।                   
    पंचकूला : ये भी क्या परम्पराएँ हम शुरू कर बैठे की तुम मेरे यहाँ आना तो गिफ्ट लेते आना और फिर मैं तेरे यहाँ जाऊंगा तो गिफ्ट लेता जाऊंगा। बड़ी बड़ी कंपनियां चांदी काट रही है और मध्यम वर्ग डिब्बों के रेट उलट पलट रहा है की किस दोस्त को क्या देना है, कौन सा रिश्तेदार कितनी हैसियत का है। कोई दोस्त महंगा गिफ्ट देता है तो उसको गिफ्ट भी महंगा ही वापिस करना होगा और कोई हल्का दोस्त तो गिफ्ट भी हल्का दे दो और कभी कभी तो पिछले वर्षो के गिफ्ट ही दे देते हे। ऐसा माहौल बनाया जा रहा है, टी.वी और सभी तरह की मीडिया आपको ये बताने पर लगा है की कितना कितना सामान कहाँ कहाँ बेचा जा रहा है।* 
*ये खबरे नहीं है दोस्तों ये आपका दिमाग घुमाने की साजिश है की आपको लगे सारी दुनिया लगी है, सामान खरीदने में आप रह गए पीछे। इस साल इस विचार पर काम करे, दीवाली को दीवाला न बनाए। क्योकि लगातार बढ़ रही महंगाई के कारण जनता के पास आज खाने के भी लाले पड़ रहे है।दिन पर दिन रसोई क़ा समान,डीजल/पेट्रोल के रेट बढ़ रहे है कोई किसी की सुनता नही सरकार कानों में रुई लगाकर बैठी है।गरीब जनता पिस रही है।मध्यम वर्गीय लोग फिर भी जैसे तैसे गुजरा कर रहे है लेकिन उन लोगो का क्या जो फटेहाल जीवन जी रहे है रहने को घर नही खाने को अन्न नही शरीर पर कोई कपड़ा नही।ऐसे लोगों का भी हम सभी को सोचना चाहिए।इस पहल में आप हमारा सहयोग करेंगे तो देश मे हम गरीब जनता के लिए कुछ कर पाएंगे।
      इस साल हम दोस्ती को सेलिब्रेट करें। प्यार को सेलिब्रेट करें।
*मेरा ये एक सुझाव है की  आप सभी प्रबुद्ध जन कुछ छोटे छोटे गिफ्ट्स जैसे बिस्कुट ,लड्डू, फ्रूटी, मोमबती, कपडे/गर्म कपड़े,कम्बल इत्यादि उन गरीब बच्चों में बांटे जो आपको आते जाते टुकर टुकर देखते रहते है। यही सच्ची दिवाली होगी।*
*मेरे जैसे सामान्य इंसान की ये राय है अगर आपको अच्छी लगे तो -- --*
* तो आइए इस समाज को बदलने में हमारी सहायता करें। लाओ नए विचार और शुरुआत करो अगर कुछ अच्छा करना चाहते हैं तो।

Tuesday, October 5, 2021

October 05, 2021

10 माह के बच्चे सहित 19 वर्षीय विवाहिता लापता

10 माह के बच्चे सहित 19 वर्षीय विवाहिता लापता
जींद,ब्यूरो रिपोर्ट , ( संजय कुमार ) ÷सदर थाना क्षेत्र के एक गांव से 19 वर्षीय विवाहिता अपने 10 महीने के बच्चे के साथ लापता हो गई। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
सदर थाना क्षेत्र के एक गांव की युवती ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसके भाई की 19 वर्षी पत्नी एक अक्तूबर दोपहर को अचानक बिना किसी को बताए कहीं चली गई। वह अपने साथ 10 महीने का बच्चा भी ले गई। पता चलने पर उसे आसपास तथा रिश्तेदारियों में ढूंढा, लेकिन कहीं भी उसका सुराग नहीं लगा। जांच अधिकारी एएसआई सुरेंद्र सिंह ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Wednesday, September 22, 2021

September 22, 2021

थाने में 2 दिनों से सरकारी गेंहू से भरा ट्रक खड़ा बना चर्चा का विषय

थाने में 2 दिनों से सरकारी गेंहू से भरा ट्रक खड़ा बना चर्चा का विषय
 जींद/सफीदों ÷ सफीदों के सिटी थाने में पिछले 2 दिनों से खड़ा सरकारी गेंहू से भरा ट्रक चर्चा का विषय बना हुआ है। इस मामले में सफीदों पुलिस कुछ भी बोलने में कन्नी काट रही है। मिली जानकारी के अनुसार सफीदों पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि संदिग्ध परिस्थितियों में जींद रोड स्थित एक सरकारी गोदाम से गेंहू से भरा एक ट्रक निकला है और वह किसी दूसरे गोदाम में जा रहा है। सूचना के आधार पर पुलिस ने ट्रक को काबू करके उसे सिटी थाना में खड़ा कर दिया। पुलिस ने ट्रक के ड्राइवर और हेल्पर को भी काबू किया है। हालांकि इस ट्रक को पकड़े हुए बहुत लंबा समय हो चुका है लेकिन पुलिस इस मामले में कुछ भी बताने को तैयार नही है। वैसे पुलिस ने इस मामले में हैफेड के आलाधिकारियों को सूचित किया है। सफीदों पुलिस ने यह गेंहू से भरा ट्रक सफीदो के हैफेड गोदाम के पास से पकड़ा है। इस ट्रक में करीब 300 बोरियां भरी हुई है और हर बोरी सरकारी मार्का लगा हुआ है। बताया जा रहा है कि इस गेंहू को हैफेड के एक गोदाम से दूसरे गोदाम में अवैध तरीके से भेजा जा रहा था। इसी बीच पुलिस को सूचना मिली तो उसने ट्रक को गोदाम के पास से ही काबू कर लिया। वही इस मामले सूत्र बताते है कि हैफेड के एक  गोदाम में अधिकारियों व कर्मचारियों के द्वारा चोरी से गेंहू बाजार में बेच दिया गया था और बेचते वक्त वे स्टाक का हिसाब लगाना भुल गए। जब बाद में स्टाक मिलाया गया तो वह कम निकला। उसके बाद अधिकारियों व कर्मचारियों में हडकंप मच गया। आननफानन में उस कम गेंहू को पूरा करने के लिए अधिकारियों व कर्मचारियों ने दूसरे गोदाम से संपर्क किया। वहां पर सैटिंग बैठाकर अवैध रूप से गेंहू का ट्रक भरवाया और उसे दूसरे गोदाम के लिए रवाना किया गया लेकिन इसी बीच किसी इस घालमेल की सूचना पुलिस को दे दी और पुलिस ने मौके पर पहुंचकर ट्रक को पकड़ लिया। पुलिस द्वारा पकड़े गए ट्रक में किस-किस की मिलीभगत है यह तो पुलिस जांच में सामने आएगा। वहीं यह भी पता चला है हैफेड के बड़े अधिकारी सफीदों पहुंचे है। अधिकारियों ने पहले तो गोदामों को सील किया। उसके बाद एक-एक गोदाम को खुलवाकर स्टाक की जांच कर रहे हैं। समाचार लिखे जाने तक अधिकारी जांच कर रहे थे। वैसे इस मामले की गहराई से जांच की जाए जो बहुत बड़ा घोटाला सामने आ सकता है।
September 22, 2021

सफाई कर्मचारी की संदिग्ध हालात में मौत

सफाई कर्मचारी की संदिग्ध हालात में मौत
-पिछले 8 साल से रेक्सन होटल में था कार्यरत
जींद --( संजय कुमार )÷ शहर के सब्जी मंडी स्थित रेक्शन होटल में सफाई कर्मचारी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक की पहचान यूपी के बहराइच जिला के छेदीपुर निवासी 35 वर्षीय गौरी शंकर के रूप में हुई है। घटना की सूचना मिलने पर सिटी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मृतक के साथियों के बयान दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल में लाया गया।
होटल संचालक जतिन ने सिटी थाना पुलिस को दिए बयान में बताया कि गौरी शंकर पिछले 8 वर्ष से होटल में उसके पास सफाई का काम कर रहा था। बबलू के परिवार और गांव के और भी कई कर्मचारी होटल में काम करते हैं। सोमवार रात को लगभग साढ़े 12 बजे गौरी शंकर खाना खाकर कमरे में चला गया था, इसकी सीसीटीवी फु टेज हैं, लेकिन रात को उसकी हृदय गति रुकने से मौत हो गई। इसके बारे में किसी को जानकारी नहीं लगी। सुबह वह काम पर नहीं आया तो उसकी तलाश की गई, लेकिन उसका पता नहीं लगा। जब उसके मोबाइल पर कॉल की तो सीढिय़ों में मोबाइल की घंटी बजती सुनाई दी। जिसके बाद सीढिय़ों में जाकर देखा तो वह सीढिय़ों पर पड़ा हुआ था और उसकी मौत हो चुकी थी। 
*-परिजनों के बयान पर होगी कार्रवाई : दिनेश*

सिटी थाना प्रभारी दिनेश ने बताया कि मृतक के शरीर पर किसी प्रकार के निशान नहीं हैं। गौरी शंकर की मौत किन कारणों से हुई है। इसकी पुष्टि पोस्टमार्टम के बाद ही हो पाएगी।  मृतक के परिजनों को सूचना दे दी गई है। उनके आने के बाद बयान दर्ज कर आगामी कार्रवाई की जाएगी।
September 22, 2021

डायल 112 पर न दें झूठी सूचना, अन्यथा होगी कार्यवाही

डायल 112 पर न दें झूठी सूचना, अन्यथा होगी कार्यवाही
जींद --( संजय कुमार ) ÷ डायल 112 पर झूठी सूचना देने वालों पर तुरंत करें कार्यवाही 
धारा 182 आईपीसी के तहत की जाएगी कार्रवाई।
जींद पुलिस अधीक्षक वसीम अकरम ने डायल 112 पर झूठी सूचना देकर पुलिस का समय बर्बाद करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के आदेश जारी किए हैं। 
उन्होंने कहां की डायल 112 सेवा एक आपातकालीन सेवा है जो आपातकाल के दौरान पीड़ित व्यक्ति को तुरंत पुलिस सहायता प्रदान करती है, अगर कोई झूठी सूचना देकर बार-बार पुलिस को परेशान कर रहा है या पुलिसकर्मियों के साथ अभद्र व्यवहार कर रहा है तो उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करवाएं। 
प्राय देखने में आ रहा है कि डायल 112 पर अनावश्यक कॉल व झूठी और फर्जी सूचनाएं आ रही हैं ऐसे व्यक्तियों बख्शा नही जाएगा। ऐसी फर्जी कॉल से पुलिस का समय बर्बाद होता है।

Wednesday, September 15, 2021

September 15, 2021

कंटीली तारों को फांदकर बाल कलाम आश्रम से दो किशोरी फरार

कंटीली तारों को फांदकर बाल कलाम आश्रम से दो किशोरी फरार
जींद ÷ (संजय कुमार ) = डीसी कालोनी स्थित बाल कलाम आश्रम से सोमवार शाम को स्टाफ सदस्यों को चमका देकर दस फीट ऊंची दीवार व कंटीली तारों को फांदकर दो किशोरी फरार हो गई। इसका पता लगते ही आश्रम में हड़ंकप मच गया। सूचना पाकर महिला एवं बाल विकास व सीडब्ल्यूसी के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए और स्थिति का जायजा लिया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और आश्रम में लगे सीसीटीवी को खंगाला। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। गायब हुई एक लड़की बिहार व दूसरी असम की रहने वाली है। दोनों लड़कियों को एक सप्ताह पहले ही लाकर आश्रम में छोड़ा था और विभाग द्वारा दोनों लड़कियों की काउंसलिंग की जा रही थी। इसी बीच में वह मौका पाकर वहां से फरार हो गई। मंगलवार सुबह सीडब्ल्यूसी के पूर्व सदस्य अनिल लाठर को एक किशोरी बस स्टैंड गेट के पास घूमती हुई नजर आई। पूर्व सदस्य ने किशोरी को पहचान 
लिया और नजदीक खड़ी पुलिस पीसीआर को पूरी जानकारी दी। पीसीआर में तैनात कर्मचारियों की सहायता से किशोरी को वापस बाल कलाम आश्रम में लाया गया, जहां उसकी काउंसलिंग की गई। पुलिस ने भी किशोरी से पूछताछ की। दोनों किशोरियों के गायब होने के मामले में आश्रम पर भी सवाल 
उठ रहे हैं। स्टाफ होने के बावजूद किशोरियां चमका देने में कामयाब हो गई। यही नहीं जिला बाल संरक्षण अधिकारी कार्यालय के कर्मचारी भी आधे घंटे पहले ही आश्रम में काउंसलिंग करके गए थे। उनके जाते ही दोनों किशोरी बाहर ग्राउंड में घूमने के लिए निकली थी।
*-एक-दूसरे की सहायता से फांदी दीवार-*
किशोरी ने बताया कि दूसरी किशोरी के साथ मिलकर वह भागी थी। पहले ऊपर एक किशोरी दूसरे की सहायता से चढ़ी और फिर ऊपर चढ़ी किशोरी ने नीचे से दूसरी को खींचकर ऊपर चढ़ाया। कंटीले तारों से निकलने के दौरान एक किशोरी के कपड़े उसमें फंस गए और उसका कुछ हिस्सा तारों में भी उलझ गया था। पूछताछ में किशोरी ने बताया कि दूसरी युवती उसे लेकर पहले आसपास घूमती रहती और फिर अंधेरा होते ही उसे गोहाना रोड के आसपास बैठाकर कुछ देर में आने की बात कहकर चली गई, लेकिन उसके बाद वह वापस नहीं लौटी। फिलहाल पुलिस दूसरी किशोरी की तलाश कर रही है।
-पूरी रात सड़कों पर घूमती रही किशोरी-
पूछताछ में किशोरी ने बताया कि उसके जाने के लिए कोई रास्ता नहीं पता था। वह रात भर इधर-उधर घूमती रही, लेकिन दूसरी लड़की वापस नहीं आई। 
सुबह होने पर वह किसी तरह बस स्टैंड के पास पहुंच गई, लेकिन इसी दौरान सीडब्ल्यूसी के पूर्व सदस्य ने उसे देख लिया और वापस ले आए।
सीसीटीवी में कैद हुई दोनों
आश्रम में लगे सीसीटीवी में दोनों किशोरी ग्राउंड में घूमती नजर आती है, लेकिन कुछ देर में सीसीटीवी से ओझल हो जाती है। इसी दौरान पिछली दीवार 
को फांदकर डीसी कालोनी की तरफ उतर जाती है।
*वर्जन*
किशोरियों के गायब होने की सूचना मिली थी। सुबह वह आश्रम का दौरा करके रिपोर्ट लेकर आई है। इसमें से एक लड़की मिल चुकी है। उससे पूछताछ की गई तो बताया कि दूसरी लड़की आने की बात कहकर गई, लेकिन वापस नहीं आई।
सुजाता, जिला बाल संरक्षण अधिकारी, जींद

Friday, September 3, 2021

September 03, 2021

चोरी मामले में ज्वैलर से पूछताछ को लेकर नया नियम

चोरी मामले में ज्वैलर से पूछताछ को लेकर नया नियम:हरियाणा DGP ने जारी की एडवाइजरी, कहा- पूछताछ के नाम पर परेशान नहीं करना है, लेकिन दस्तावेजों की जांच जरूर करनी है
रोहतक : चोरी के गहने बेचे व खरीदे जाने पर आरोपियों द्वारा किसी भी ज्वैर्ल्स का नाम लिया जाता है तो उससे पूछताछ को लेकर पुलिस विभाग द्वारा एक बड़ा आदेश जारी किया गया है। अब पूछताछ के नाम पर ज्वैलर को पुलिस पूछताछ के लिए परेशान नहीं कर सकेगी। लंबे समय से चली आ रही सर्राफा कारोबारियों की मांग पर *संज्ञान लेते हुए गृह मंत्री अनिल विज ने आदेश जारी किए हैं*
मंत्री विज के आदेशों की पालना करते हुए ही हरियाणा पुलिस ने 2 सितंबर की शाम को यह आदेश प्रदेश भर में लागू किए। डीजीपी पीके अग्रवाल ने दुकानों पर बेचे जाने वाले जेवरातों की वैधता यानी चोर द्वारा चोरी का माल बेचने जैसी घटनाओं में सर्राफा व्यापारियों को राहत देते हुए यह एडवाइजरी जारी की है। जिसके तहत ज्वैलरों को परेशान नहीं करना, लेकिन उनसे दस्तावेजों के बारे में जानना है।

हरियाणा पुलिस विभाग द्वारा जारी किया गया लेटर।

*हर ज्वैलर को गहने बेचने वाले का रखना होगा ब्यौरा*
मामले की जानकारी देते हुए इंडिया बुलियन व ज्वैलर्स एसोसिएशन के स्टेट हेड व रोहतक ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष हेमंत बख्शी ने कहा कि एडवाइजरी के मुताबिक, अब हर स्वर्णकार को गहने बेचने वाले का नाम, पता, मोबाइल नंबर अपने रजिस्टर में दर्ज करना होगा। खरीदे गए गहनों का आकार-प्रकार वजन व कीमत का भी विस्तारपूर्वक विवरण लिखना होगा। इसके इलावा स्वर्णकार को सोना बेचने वाले व्यक्ति की कोई भी आईडी जैसे पहचान पत्र, आधार कार्ड, पैन कार्ड की फोटो कॉपी भी जमा करनी होगी।
जरूरत पड़ने पर दुकानदार अगर चाहे तो ग्राहक की फोटो या इस खरीद बेच की पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी कर सकते हैं। उसे भी सबूत माना जाएगा। स्वर्णकार को खरीदे गए सोने की पेमेंट चेक से या ऑनलाइन या बैंक से ट्रांसफर के जरिए करनी होगी। कोई भी स्वर्णकार किसी पूछताछ के मामले में यदि जारी एडवाइजरी के हिसाब से सूचना उपलब्ध कराता है तो उसको पुलिस परेशान नहीं करेगी।

ज्वैलर्स एसोसिएशन स्टेट हेड हेमन्त बख्शी

*राज्य स्तरीय ज्वैलर प्रतिमंडल मिला था गृहमंत्री से*
ज्ञात रहे कि हेमन्त बख्शी के नेतृत्व में अप्रैल माह में एक राज्य स्तरीय प्रतिनिधि मंडल हरियाणा गृह मंत्री अनिल विज से मिला था। उन्हें सर्राफा व्यापारियों व कारोबारियों की समस्याओं और मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा था। जिसमें हथियारों का लाइसेंस बनाने वाली मांग पर तो गृह मंत्री ने तत्काल आदेश दे दिए थे और शेष मांगों पर गौर करने के बाद यह आदेश जारी किया गया है।

Tuesday, July 20, 2021

July 20, 2021

कार की बॉडी से बनाई अद्भुत नंदी सफारी

फतेहाबाद में कार की बॉडी से बनाई अद्भुत नंदी सफारी, सैलानियों को आ रही है खुब रास

फतेहाबाद : सफारी नाम सुनते ही मन अपने आप पुलकित हो उठता है। वह चाहे रेगिस्तान सफारी हों या अन्य, रोमांच पैदा हो जाता है। कुछ ऐसा ही सुखद अहसास टोहाना की शिव नंदीशाला में होता है। लेकिन यहां रेगिस्तान सफारी में ऊंट की अहमियत से उपर कार और बैल, दोनों की संयुक्त सफारी का आनंद उठाया जा सकता है। कार की बॉडी वाली इस सफारी में सामाजिक सरोकारों से जुड़े मानव- मूल्यों के दर्शन होते हैं। साथ ही, सरकार के भरोसे गोवंश संवर्द्धन की बांट जोहने वाली गौशालाओं को आत्मनिर्भरता का मैसेज भी मिलता है।

यह अनूठी पहल है , सैलानियों के लिए सुहाने सफर के माध्यम से नंदीशाला को आत्मनिर्भर बनाने का। आइडिया यूं आया कि शिव नंदीशाला के संयोजक व एक निजी स्कूल के प्रिंसिपल धर्मपाल सैनी जब अपने स्कूल के बच्चों को टूर पर ले जाते तो बच्चे धरोहर दर्शन के दौरान बैलगाड़ी देखकर बहुत खुश होते थे। यहीं से मन में ख्याल आया कि क्यों न नंदीशाला में नंदी के सहारे सफारी की पहल की जाएं। प्लान किया गया कि कार की बॉडी और एक बहलवान के साथ नंदी का उपयोग किया जाएं।

कोशिश परवान चढ़ी और तैयार हो गई सफारी और नाम दिया गया नंदी सफारी। फिर चल पड़ी हरियाली से पर्यावरण संरक्षण, रोजगार से ग़रीबी उन्मूलन, जोहड़ से जल संरक्षण आदि जैसे जीवन -मूल्यों के दर्शन की सफारी… . सफारी से होने वाली आमदनी से नंदीशाला की आत्मनिर्भरता… इस जज्बे को सलाम।

*यूं बनी अद्भुत नंदी सफारी*
कार मार्केट से 13 हजार रुपए में एक पूरानी इंडिका कार खरीदी गई। फिर नंदीशाला में ही गेट वगैरह का काम करने वाले नारायणगढ़ के प्रकाश को आइडिया से अवगत कराया। कार का इंजन वाला हिस्सा काटकर हटा दिया गया। शेष हिस्से को जूहा से जोड़ा गया। कार वाले हिस्से में म्यूजिक सिस्टम लगा दिया। तैयार हो गई अनूठी सफारी एक नंदी के सहारे यह चलतीं है।
*दस रुपए टिकट*
नंदीशाला परिसर लगभग सात एकड़ में फैला हुआ है। यहां राधिका गाय है तो कन्हैया नंदी भी। पूरे परिसर में हरियाली मौजूद है। परिसर में फैले मानव- मूल्यों के दर्शन करने में नंदी सफारी से दस मिनट का समय लगता है। टिकट का मूल्य 10 रुपए है।

*शहर में भी चलाने की योजना*
नंदीशाला संयोजक धर्मपाल सैनी ने बताया कि शनिवार और रविवार को सफारी के रोमांच का आनंद उठाने वालों की अच्छी- खासी भीड़ होती है। इस आमदनी से नंदीशाला में गोवंश के पालन-पोषण के लिए काफी सहायता मिलती है। अब इसे शहर में चलाने की योजना बनाई गई है।
हमें Google News www.haryanabulletinnews.com पर फॉलो करें- क्लिक करें । हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़ें
July 20, 2021

देवशयनी एकादशी के साथ आज से चातुर्मास शुरू, चार माह तक नहीं होंगे मांगलिक कार्य

देवशयनी एकादशी के साथ आज से चातुर्मास शुरू, चार माह तक नहीं होंगे मांगलिक कार्य
कुरूक्षेत्र ; कुरुक्षेत्र देवशयनी एकादशी के साथ आज से चातुर्मास शुरू हो रहे हैं। इनका समापन 15 नवंबर को होगा। चातुर्मास में शादी-विवाह, मुंडन आदि जैसे कार्य नहीं किए जाते हैं। कॉस्मिक एस्ट्रो के डायरेक्टर व श्री दुर्गा देवी मंदिर पिपली के अध्यक्ष डॉ. सुरेश मिश्रा ने बताया कि 20 जुलाई मंगलवार अनुराधा नक्षत्र, शुक्ल योग को आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी का विशेष महत्व है। इस तिथि से जगत के संचालक भगवान विष्णु चार माह के लिए शयन करने चले जाते हैं, इस तिथि से चार माह तक देवताओं की रात्रि होती है। देवता शयन करने जाते हैं, इसलिए आषाढ़ी एकादशी को देवशयनी एकादशी और हरिशयनी एकादशी आदि नामों से जाना जाता है।
 देवताओं के योग निद्रा में जाने के कारण चार माह तक कोई भी मांगलिक कार्य नहीं होते हैं। आषाढ़ मॉस के शुक्ल पक्ष की देवशयनी एकादशी से श्रावण, भाद्रपद ,आश्विन,कार्तिक मॉस के शुक्ल पक्ष की देव प्रबोधिनी एकादशी के समय को चातुर्मास कहा जाता है। चातुर्मास हरिप्रबोधिनी एकादशी 15 नवम्बर 2021 तक रहेगा। विशेष चातुर्मास में भगवान शिव और उनके परिवार की आराधना होती है। चातुर्मास में भगवान शिव जगत के संचालन और संहारक दोनों ही भूमिका में होते हैं। देवशयनी एकादशी का महत्व जो भी व्यक्ति सच्चे हृदय से देवशयनी एकादशी का व्रत करता है और भगवान विष्णु की विधि विधान से पूजा करता है। उस व्यक्ति के सारे पाप नष्ट हो जाते हैं। उसको कष्टों से मुक्ति मिल जाती है। भगवान श्रीहरि उसकी मनोकामनाओं की पूर्ति करते हैं। मृत्यु के बाद उसकी आत्मा को श्री हरि के चरणों में स्थान प्राप्त होता है। भगवान विष्णु के विश्राम करने के 4 महीने बाद तक कोई भी मांगलिक कार्य नहीं किए जाते है क इस समय तीर्थ स्नान, सत्संग, योग, प्राणायाम, ध्यान, संकीर्तन, भगवान शिव की पूजा-अर्चना होती है लेकिन कोई मंगल कार्य नहीं होते हैं। शुभ और मांगलिक कार्यों का प्रारम्भ भगवान विष्णु का पूरा विश्राम होने के बाद देवप्रबोधिनी एकादशी से ही होते है।
 *देवउठनी एकादशी कब है?*
देवउठनी एकादशी का व्रत 15 नवंबर 2021 को कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को रखा जाएगा। इसी दिन से चातुर्मास का समापन होगा और इसी दिन तुलसी विवाह किया जाएगा। ‍

Sunday, July 18, 2021

July 18, 2021

दीपक गोयल बने शक्तिपीठ मां बनभौरी सेवा मंडल के प्रधान

दीपक गोयल बने शक्तिपीठ मां बनभौरी सेवा मंडल के प्रधान

जींद ( संजय कुमार ) ÷  शक्तिपीठ मां बनभौरी सेवा मंडल जीन्द के सदस्यों की एक बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में आगामी वर्ष के लिए कार्यकारिणी का गठन किया गया जिसमें सर्वसम्मति से दीपक गोयल नरवाना वाले को सेवा मंडल का प्रधान नियुक्त किया गया।
शेष कार्यकारिणी में पवन गर्ग को संरक्षक, पवन गुप्ता को उपप्रधान, दिनेश गोयल को महासचिव, जगमोहन मितल को सचिव, पवन मितल को कोषाध्यक्ष, दीपक गर्ग को सह कोषाध्यक्ष, आंनद को प्रेस प्रवक्ता व रोहित गर्ग, अक्षय, राघव, नवीन, विकास गर्ग, विशाल जिंदल, विपिन जिंदल, पुनीत गर्ग, अनिल जैन को कार्यकारी सदस्य नियुक्त किया गया।
नवनिुयक्त प्रधान दीपक गोयल का कहना है कि उनकी संस्था धार्मिक कार्यो के लिए सदैव तत्पर रहेगी। संस्था ने जो जिम्मेवारी उन्हें सौंपी है उसको वे निस्वार्थ भाव से पूरा करने का हर संभव प्रयास करेंगे।
July 18, 2021

आठवें रक्तदान शिविर में 51 यूनिट रक्त एकत्रित

आठवें रक्तदान शिविर में 51 यूनिट रक्त एकत्रित
-सति भाई सांई दास सेवा दल ने आयोजित किया शिविर
जींद : ( संजय कुमार ) सति भाई सांई दास सेवा दल द्वारा रविवार को पुराना बस अड्डा के निकट स्थित पंजाबी धर्मशाला में आठवां रक्तदान शिविर आयोजित किया जाएगा। रक्तदान शिविर में मुख्यातिथि के तौर पर विधायक डॉ. कृष्ण मिढ़ा व सम्मानित अतिथि के तौर पर नागरिक अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. मनजीत सिंह ने शिरकत की। वहीं नागरिक अस्पताल के डिप्टी एमएस डॉ. राजेश भोला भी विशेष तौर पर मौजूद रहे। रक्तदान शिविर का शुभारंभ मुख्यातिथि द्वारा रक्तदाताओं को बैज लगाकर किया गया। शिविन में 51 यूनिट एकत्रित हुई। 
मुख्यातिथि डॉ. कृष्ण मिढ़ा ने रक्तदाताओं का हौंसला बढ़ाते हुए कहा कि रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं है। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को समय-समय पर रक्तदान जरुर करना चाहिए। हमारे द्वारा दान किया गया रक्त किसी जरुरतमंद को नई जिंदगी देता है। किसी को जीवनदान देना बड़े पुण्य का कार्य है। डॉ. मिढ़ा ने कहा कि अब रक्तदान के प्रति लोगों की सोच बदल रही है। युवा वर्ग रक्तदान के लिए आगे आ रहा है। इसके चलते अब जींद जिले में रक्त की कमी नहीं है। 
सिविल सर्जन डॉ. मनजीत सिंह ने कहा कि एक स्वस्थ व्यक्ति तीन माह बाद रक्तदान कर सकता है। रक्तदान करने से शरीर में किसी तरह की कमजोरी नहीं आती बल्कि रक्तदान करने से शरीर को कई प्रकार की बीमारियों से छुटकारा मिल जाता है। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को समय-समय पर रक्तदान करना चाहिए। डिप्टी एमएस डॉ. राजेश भोला ने कहा कि रक्तदान एक पुण्य का कार्य है और सभी सामाजिक संस्थाओं को चाहिए कि वह समय-समय पर इस तरह के आयोजन करें ताकि रक्त के अभाव में किसी व्यक्ति की जान न जाए। डॉ. भोला ने कहा कि रक्तदान करने से शरीर पर किसी प्रकार का कोई दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है। बल्कि हमारे द्वारा रक्तदान करने से हमारे शरीर में नए रक्त का निर्माण होता है। उन्होंने कहा कि रक्त का कोई विकल्प नहीं है। रक्तदान ही रक्त का विकल्प है इसलिए हमें समय-समय पर रक्तदान जरुर करना चाहिए। सेवा दल के प्रधान भारत भूषण व सदस्य कमल चुघ ने बताया कि सति भाई सांई सेवा दल द्वारा महंत रामसुख दास महाराज के सानिध्य में आयोजित किए जाने वाले इस रक्तदान शिविर में 51 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया। रक्तदान को लेकर युवाओं में खासा उत्साह था। सेवा दल समय-समय पर इस तरह के आयोजन करना रहता है। 
इस अवसर पर शिविर में गुरदीप अरोड़ा, हरपाल आनंद, हंसराज चुघ, कश्मीरी लाल हडिय़ा, अनिल गांधी, अनिल गिरधर, गौरव सिंधवानी, वासुदेव सिंधवानी सहित सेवा दल के सभी सदस्य मौजूद रहे।

Friday, July 9, 2021

July 09, 2021

किसानों ने मनाया महंगाई विरोधी दिवस

वाहनों को लाइन में लगा कर बजाए हार्न
-किसानों ने मनाया महंगाई विरोधी दिवस
 हॉर्न बजाकर देश के पीएम को चाहते हैं जगाना : पालवां
जींद, 8 जुलाई ( संजय कुमार ) संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर सुबह 10 बजे से लेकर दोपहर 12 बजे तक किसानों ने महंगाई के विरोध में खटकड़ टोल पर रोष प्रदर्शन किया। यहां सड़क के एक किनारे वाहनों की लाइन लगा कर, खाली गैस सिलेंडर के साथ प्रदर्शन किया। प्रदर्शन की अगुआई खेड़ा खाप प्रधान सतबीर पहलवान व किसान नेता आजाद पालवां ने सयुंक्त तौर पर की।
किसान नेताओं ने कहा कि पूरे देश में आज दो घंटे तक बढ़ रही महंगाई के विरोध में प्रदर्शन किसान, मजदूरों द्वारा किया गया। पिछले 7 साल से केंद्र में भाजपा सत्तासीन है। महंगाई निरंतर बढऩे से आम आदमी पर इसकी मार पड़ रही है। डीजल के रेट बढऩे से किसानों का खेती पर खर्च बढ़ रहा है तो खाद, बीज के दामों में भी बढ़ोतरी हुई है। पेट्रोल के दाम बढऩे से महंगाई बढ़ रही है। कच्चा तेल के भाव कम होने के बाद भी रोज पेट्रोल बढ़ रहा है। पेट्रोल 100 के पास पहुंच गया है तो डीजल 90 पार पहुंच गया है।  
खटकड़ टोल लगातार चल रहे किसानों के धरने की अध्यक्षता लीला बड़ौदा ने की। सांकेतिक हड़ताल पर निहाली देवी, चंद्रपति, नन्ही देवी, संतोष देवी, भतेरी देवी बड़ौदा रही। विभिन्न गांवों से महिला, पुरूष, युवा किसान धरने पर पहुंचे। यहां पर बीते सात महीनों से किसानों का धरना निरंतर जारी है। तीन कृषि कानूनों को रद्द करने, एमएसपी पर कानून बनाने की मांग को लेकर किसान धरने पर है।
 इस मौके पर बिजेंद्र सिंधु, कैप्टन भूपेंद्र, हरिकेश, सूरजमल, प्रकाश शर्मा, अक्षय, अमित, पाला, अनीश, संदीप, राजेश, जगदीश, कविता, प्रियंका गोयत, भारती, कृष्णा, बबली, कमला, शीला जुलानी मौजूद रहीं।
July 09, 2021

जींद में रस्सी से खींचे ट्रैक्टर व सिर पर खाली एलपीजी सिलेंडर रख जताया विरोध

जींद में रस्सी से खींचे ट्रैक्टर व सिर पर खाली एलपीजी सिलेंडर रख जताया विरोध
-बढ़ती महंगाई को लेकर बिफरे जींद के किसान-मजदूर
-केंद्र व प्रदेश सरकारों के खिलाफ नारेबाजी
जींद, 8 जुलाई ( संजय कुमार ) पेट्रोलियम पदार्थों, रसोई गैस आदि की कीमतों में वृद्धि के खिलाफ वीरवार को जिले भर में किसानों ने प्रदर्शन किए। नरवाना, जुलाना, उचाना व सफीदों में भी बढ़ती महंगाई को लेकर विरोध जताया गया।
जींद में लघु सचिवालय पर प्रदर्शन के दौरान किसान-मजदूरों ने ट्रैक्टर को रस्सी से खींचकर तथा महिलाओं ने खाली रसोई गैस के सिलेंडरों को सिर पर रखकर विरोध जताया। 
इससे पहले किसान, मजदूर, नौजवान व महिलाएं लघु सचिवालय के बाहर धरने पर बैठे। धरने की अध्यक्षता सयुंक्त रूप से किसान सभा के जिला प्रधान रोहताश नगूरां व भारतीय किसान यूनियन (रत्न मान) के प्रवक्ता राम राजजी ढुल ने किया। धरने को किसान सभा के राज्य अध्यक्ष फूल सिंह श्योकन्द, सीटू के राज्य उपाध्यक्ष कॉमरेड रमेश चन्द्र,  एसकेएस के जिला प्रधान रामफल दलाल, किसान नेता रामफल कंडेला, छाजू राम कंडेला, पूनम रेढू ने सम्बोधित किया।
 इन्होंने बताया कि देश में पेट्रोलियम पदार्थों के रेट लगातार आसमान छू रहे हैं। भारत में आज डीजल और पेट्रोल की कीमत लगभग 100 रुपये प्रति लीटर है। ज्ञात हो कि आम नागरिकों द्वारा भुगतान किए जा रहे ईंधन की कीमतों का 65% कर के रूप में सरकार को जाता है। भारत में ईंधन की कीमतें अभी श्रीलंका, बांग्लादेश और नेपाल जैसे हमारे पड़ोसी देशों सहित अन्य देशों की तुलना में काफी अधिक हैं। सच्चाई यह है कि विमानन ईंधन उस ईंधन से सस्ता है, जिसका उपयोग किसानों जैसे आम उपभोक्ता करता है। नागरिक इस बोझ को सहन करना जारी नहीं रख सकते हैं और इस संदर्भ में आज जींद में महंगाई के विरोध में प्रदर्शन किए जा रहे हैं। दूसरी तरफ रसोई गैस, सरसों के तेल, खाद्य पदार्थ, खाद, बीज, दवाई आदि महंगे होते जा रहे हैं और आम आदमी का गुजारा चलाना नामुमकिन होता जा रहा है।
आज के इस प्रदर्शन में मुख्य रूप उपरोक्त के इलावा किसान सभा के राजेन्द्र निडाना, शमशेर निडाना, सीटू नेता संदीप जाजवान, राजेश कुमार, पवन कुमार, संदीप दालमवाला, महाबीर, संजीव ढांडा, धर्मबीर घनघस, युवाओं साथी दीपक संगतपुरा, अनीश, सन्नी, काली, नारीशक्ति रतनी देवी, पताशो, शांति आदि मुख्य रूल से शामिल हुए।
प्रदर्शन के बाद संगतपुरा गांव के किसान, महिलाएं व नौजवान बिजली की समस्या व पानी की समस्या की लेकर सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों से मिले व अपनी समस्याओं के ज्ञापन दिए।
खटकड़ टोल प्लाजा पर किसानों ने अपने वाहन एक ओर खड़े कर विरोध जताया। इस दौरान केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ भारी नारेबाजी भी की गई।
नरवाना में बद्दोवाल टोल प्लाजा से लेकर शहर के बीचों बीच लघु सचिवालय तक प्रदर्शन किया और अपनी मांगों को ज्ञापन एसडीएम सुरेन्द्र सिंह को सौंपा। यह प्रदर्शन बदोवाल टोल प्लाजा से पतराम नगर, रेलवे रोड़, भगत ङ्क्षसह चौक, विश्वकर्मा चौंक से लघु सचिवालय तक किया गया। किसान नेता मास्टर बलबीर सिंह ने बताया कि सरकार द्वारा हर उस वस्तु को आए दिन महंगा किया जा रहा है। जिसकी आम आदमी को हर रोज जरूरत पड़ती है। इसमें पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस व बिजली मुख्य है।

Wednesday, July 7, 2021

July 07, 2021

जींद के किरायेदार दुकानदारों को मिलेगा मालिकाना हक, शुरू हो गए आनलाइन आवेदन

जींद के किरायेदार दुकानदारों को मिलेगा मालिकाना हक, शुरू हो गए आनलाइन आवेदन
जींद : ( संजय कुमार ) शहर में नगर परिषद की दुकानों पर 20 साल से ज्यादा समय से किराये पर बैठे 289 दुकानदारों को मालिकाना हक मिलेगा। मालिकाना हक लेने के लिए दुकानदारों को पोर्टल पर आनलाइन आवेदन करना होगा। सोमवार से पोर्टल खुल चुका है। आवेदक को दुकान के एग्रीमेंट की कापी व प्रोपर्टी का नक्शा व अन्य कागजात, आधार कार्ड, फैमिली आइडी आनलाइन आवेदन में लगानी होगी। उसके बाद नगर परिषद की टीम मौके पर जाकर निरीक्षण करेगी। जिसके लिए पांच सदस्यीय टीम गठित कर दी गई है। इस टीम में एमई, जेई, अकाउंटेंट, प्रोपर्टी टैक्स से संबंधित कर्मचारी शामिल किए गए हैं। 
नगर परिषद ने जो दुकान बनाकर किराये पर दी थी। उससे अतिरिक्त किया गया निर्माण अतिक्रमण माना जाएगा। बहुत से दुकानदारों ने बाद में ऊपर भी निर्माण कर लिया। उन्हें अतिरिक्त निर्माण की एवज में प्रति गज के हिसाब अतिरिक्त राशि जमा करानी होगी। पांच सदस्यीय कमेटी निरीक्षण कर ईओ को रिपोर्ट देगी। नगर परिषद कार्यालय में हेल्प डेस्क भी बना दिया गया है। जहां प्रोपर्टी मालिक आवेदन से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी ले सकते हैं। 
बहुत से दुकानदारों के पास नहीं एग्रीमेंट की प्रति ज्यादातर दुकानदारों के पास दुकान की एग्रीमेंट की कापी नहीं है। एग्रीमेंट की कापी लेने के लिए सोमवार से ही वे नगर परिषद कार्यालय आ रहे हैं। दुकानदारों को किसी तरह की परेशानी हो। इसके लिए ईओ सुशील कुमार ने स्टाफ को आदेश दिए हैं कि संबंधित दुकानदार को एग्रीमेंट की फोटो कापी मोहर लगाकर दी जाए। ताकि बाद में किसी तरह की कोई गड़बड़ी ना हो। एग्रीमेंट की फोटो कापी लेने के लिए दुकानदार को ईओ के नाम एप्लीकेशन लिखनी होगी और साथ में प्रमाण के तौर पर आधार कार्ड और फैमिली आइडी की प्रति लगानी होगी। 
ईओ ने ली अधिकारियों की मीटिग सोमवार को बहुत से दुकानदार नगर परिषद कार्यालय में आकर एग्रीमेंट कापी की मोबाइल में फोटो खींच कर ले गए। ईओ ने स्पष्ट किया कि आवेदन में एग्रीमेंट की वही फोटो कापी स्वीकार की जाएगी, जिस पर नगर परिषद की मोहर लगी होगी। ताकि एग्रीमेंट कापी का किसी तरह से दुरुपयोग ना हो। ईओ ने एमई, जेई, अकाउंटेंट और संबंधित स्टाफ की मीटिग लेकर निर्देश दिए कि सरकार की गाइडलाइन के अनुसार काम किया जाए। किसी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं होगी। जो भी पोर्टल पर आवेदन आता है, उसे चेक करें, ताकि कोई खामी होने पर आवेदक से दुरुस्त कराया जा सके।