/>

Breaking

Monday, June 1, 2020

रेवाड़ी कुल 29 ऑनलाइन प्रतियोगिताओं में 2305 बच्चों दिखाई प्रतिभा

-पोस्टर पेंटिंग में 775 बच्चों ने लिया भाग, 32 रहे विजेता


(पंकज कुमार) रेवाड़ी, एक जून। उपायुक्त एवं अध्यक्ष जिला बाल कल्याण परिषद यशेन्द्र सिंह के दिशा निर्देशानुसार जिला बाल कल्याण परिषद रेवाड़ी द्वारा ऑनलाइन प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया।  कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के कारण लॉकडाउन के दौरान स्टे होम- स्टे सेफ संदेश के साथ जिला बाल कल्याण परिषद द्वारा लॉकडाउन के दौरान घरों में रह रहे बच्चों की रचनात्मक गतिविधियों को पहचान देने और  उनकी सांस्कृतिक एवं कलात्मक प्रतिभाओं को आगे लाने के लिए विभिन्न प्रकार की ऑनलाइन प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया।
उपायुक्त एवं प्रधान बाल कल्याण परिषद के दिशा निर्देशानुसार लॉकडाउन के दौरान विभिन्न वर्गो में 17 अप्रैल से 25 अप्रैल 2020 तक ऑनलाइन पोस्टर पेटिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें जिला के 775 बच्चों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया और इनमें 32 बच्चें विजेता रहें। पेटिंग के सभी विजेता बच्चों को ऑनलाइन प्रमाण पत्र दिए गए।  प्रतियोगिता में सभी भागीदारों को प्रतिभागिता प्रमाण पत्र भी दिया गया। बाकि विजेताओं को भी जल्द ही प्रमाण दिए जाएंगे।
जिला बाल कल्याण अधिकारी वीरेन्द्र यादव ने बताया कि राज्य परिषद द्वारा जिला रेवाड़ी की ऑनलाइन प्रतियोगिताओं की सफलता एवं प्रयासों की सराहना की तथा सभी जिलों में ऑनलाइन प्रतियोगिताएं आरंभ की गई, जो 8 मई से 15 मई तक चली। उन्होंने बताया कि 8 मई से 15 मई तक प्रथम, द्वितीय व तृतीय वर्गो में विभिन्न प्रकार की रचनात्मक गतिविधियों का आयोजन किया गया। जिसमें सोलो सॉंग, देशभक्ति गीत, प्रादेशिक लोकगीत, तीनों वर्गो में कला कौशल नृत्य, लोक नृत्य,फिल्मी नृत्य, भाषण प्रतियोगिता, कविता, निबंध लेखन, कहानियां, घर में उपलब्ध वेस्ट मेटिरियल से कलात्मक कृतियां बनाना, वेस्ट पेपर व वेस्ट समाचार पत्रों से पेपर क्राफ्ट कार्य आदि सहित कुल 29 प्रतियोगिताओं का ऑनलाइन आयोजन किया गया।
उन्होंने बताया कि इन प्रतियोगिताओं में रेवाड़ी जिले के कुल 2305 बच्चों ने भाग लिया । जिसमें से प्रथम स्थान पर 26, दूसरे पर 26, तृतीय स्थान पर 26 व सात्वंना स्थान पर भी 26 बच्चें विजेता रहें। बच्चों को और आगे प्रेरित करने के लिए बच्चों को स्पेशल स्थान दिया गया।  इन सभी प्रतियोगिताओं में कुल 193 बच्चें विजेता रहें। उन्होंने बताया कि प्रथम, द्वितीय, तृतीय व सात्वंना स्थान प्राप्त करने वाले विजेताओं को जिला स्तर पर क्रमंश 500 रूपए, 300 रूपए, 200 रूपए व 100 रूपए की राशि पुरस्कार स्वरूप उनके खाते में भेजी जाएगी।
वीरेन्द्र यादव ने बताया कि जिला स्तर पर स्थान प्राप्त करने वाली सभी प्रविष्टिïयां राज्य स्तरीय प्रतिभागिता के लिए हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद चण्डीगढ़ को भेजी जाएगी। राज्य स्तर पर प्रथम, द्वितीय, तृतीय व सांत्वना स्थान प्राप्त करने वाले विजेताओं को हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद के महासचिव कृष्ण ढुल्ल द्वारा सम्मानित किया जाएगा। जिसमें प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले को 3100 रूपए, द्वितीय को 2100 रूपए, तृतीय को 1100 रूपए व सात्वंना स्थान प्राप्त करने वाले को 500 रूपए की राशि ईनाम स्वरूप दी जाएगी।

No comments:

Post a Comment