/>

Breaking

Wednesday, July 22, 2020

हत्या, 1 साल पहले भी हुआ था सागर पर जानलेवा हमला मां और बहन ने पोस्टमार्टम हाउस के सामने धरना देकर की हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग

हत्या, 1 साल पहले भी हुआ था सागर पर जानलेवा हमला मां और बहन ने पोस्टमार्टम हाउस के सामने धरना देकर की हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग



जींद : ( संजय तिरँगाधारी )शहर के बिशंबर नगर में सोमवार देर रात को युवक सागर (21) की उसके पड़ाेसी युवक ने रंजिश के चलते दरांत से गला रेत कर हत्या कर दी। इस वारदात से पहले बाइक सवार दो युवक सागर को घर से लेकर गए थे। मंगलवार को शहर थाना पुलिस ने मृतक के चचेरे भाई प्रवीन के बयान पर बिशंबर नगर के रहने वाले युवक विजय उर्फ गोलू के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया। पुलिस ने सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाया। 
इस दौरान मृतक की मां व बहन ने सभी हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शव ले जाने से इनकार कर दिया। मां व बहन ने पोस्टमार्टम हाउस का मेन गेट बंदकर उसके सामने करीब डेढ़ घंटे तक धरना दिया। इसके बाद डीएसपी धर्मबीर खर्ब मौके पर पहुंचे। उन्होंने मृतक की मां व बहन को समझाया कि पुलिस ने एक युवक को नामजद कर उसके खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। युवक को हिरासत में ले लिया गया है।

इस हत्याकांड में जो भी शामिल हैं पुलिस उनके खिलाफ कार्रवाई करेगी और उन्हें पूरा न्याय दिलाएगी। इस दौरान मृतक की मां व बहन ने हत्याकांड में शामिल कई और युवकों के नाम डीएसपी को लिखित में दिए। डीएसपी के कार्रवाई करने का आश्वासन देने के बाद ही मां व बहन शव ले जाने को तैयार हुईं।
विधवा मां का इकलौता बेटा था सागर
उषा देवी के पति की कई साल पहले मौत हो चुकी है। उसके एक बेटे की करीब 10 साल पहले सड़क हादसे में मौत हो गई थी। अब परिवार में उसका इकलौता बेटा सागर व 12 साल की बेटी सीमा ही थे। सागर आरे पर काम करता था और उसके सहारे ही परिवार का गुजारा चल रहा था। सागर की हत्या का आरोपी विजय की पूरी काॅलोनी में झगड़ालु की छवि बनी हुई है। पिछले दिनों काॅलोनी के कई और लोगों के साथ भी उसने झगड़ा किया था। हालांकि काॅलोनी में ही वह हेयर ड्रेसर की दुकान किए हुए है।

रंजिश के चलते की गई हत्या : डीएसपी

सोमवार देर रात को बिशंबर नगर में रंजिश के चलते सागर की उसके पड़ाेस में रहने वाले युवक विजय ने हत्या की है। पुलिस ने उसके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस हत्याकांड में जो भी दूसरे लोग शामिल हैं पुलिस सबके खिलाफ कार्रवाई करेगी। धर्मबीर खर्ब, डीएसपी जींद।

मां बोली... बाइक पर दो युवक आए और बेटे सागर को बैठाकर ले गए
मैं और मेरी बेटी सोमवार शाम को करीब साढ़े 8 बजे खाना बना रहे थे। इस दौरान उसका इकलौता बेटा सागर घर के सामने ही गली में बैठा था। तभी बाइक पर सवार होकर दो युवक आए और उसके बेटे सागर को साथ बैठाकर ले गए। कुछ देर बाद ही एक पड़ाेस का युवक आया और उसने बताया कि विजय उर्फ गोलू ने विकास स्कूल के पास सागर की दरांत मारकर हत्या कर दी। इतना सुनते ही वह और उसकी 12 साल की बेटी सीमा बेहोश हो गईं।
करीब एक साल पहले भी सागर के साथ विजय की कहासुनी हुई थी। इस दौरान भी विजय ने उसके बेटे के गले पर तेज धारदार हथियार से हमला किया था। इसमें उसके बेटे को कई टांके आए थे। बाद में उन्होंने पुलिस को इसकी शिकायत की लेकिन काॅलोनी के दूसरे लोगों के कहने पर समझौता हो गया था। इसके बाद भी विजय उसके बेटे के साथ रंजिश रखे हुए थे। कई बार उसने उसके बेटे के साथ झगड़ा करना चाहा। (जैसा मृतक सागर की मां उषा देवी ने हरियाणा बुलेटिन न्यूज़ संवाददाता को बताया)

No comments:

Post a Comment