/>

Breaking

Sunday, August 30, 2020

शराब तस्करी:गैस टैंकर में शराब की जोधपुर होनी थी सप्लाई, हिसार में 781 पेटी पकड़ी, ड्राइवर को वॉट्सएप पर मिल रही थी डायरेक्शन

शराब तस्करी:गैस टैंकर में शराब की जोधपुर होनी थी सप्लाई, हिसार में 781 पेटी पकड़ी, ड्राइवर को वॉट्सएप पर मिल रही थी डायरेक्शन

हिसार में गैस टैंकर चालक काे पकड़कर अवैध शराब की पेटियां बरामद की गईं,ड्राइवर बोला- करनाल से टैंकर लिया, हिसार में दूसरे को देना था

781 पेटियों में 9372 बोतलें शराब की थीं, सभी पर हरियाणा का मार्क लगा है

हिसार : एंटी व्हीकल थेफ्ट यूनिट ने गैस के टैंकर से शराब की बड़ी खेप पकड़ी है। पुलिस ने शहर के भानू चौक पर टैंकर चालक राजस्थान के बाड़मेर वासी किशनाराम को गिरफ्तार किया है। गैस टैंकर से अंग्रेजी शराब की 781 पेटियां बरामद हुईं, जिनमें 9372 बोतलें शराब की थीं। सभी पेटियों और बोतलों पर हरियाणा मार्का लगा है, जो पानीपत के समालखा और करनाल में जुंडला से भरकर सप्लाई के लिए जोधपुर में सप्लाई होनी थी। टैंकर की नंबर प्लेट पर नागालैंड का नंबर है, लेकिन आगे व पीछे के नंबर से छेड़छाड़ की गई है।
आरोपी चालक के खिलाफ एक्साइज एक्ट और धोखाधड़ी के तहत केस दर्ज कर लिया है। चालक को रविवार को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा। बता दें कि समालखा में शराब घोटाला उजागर हो चुका है। सील गोदाम से शराब की पेटियां चोरी हुईं थीं, जिसमें पूर्व विधायक जजपा नेता सतविंद्र राणा सहित अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी हुई थी। ऐसे में बरामद शराब के उक्त चोरी प्रकरण से कोई संबंध तो नहीं, इसकी जांच की जा रही है।

चालक को होटल पर दिया था टैंकर

यूनिट इंचार्ज नर सिंह ने बताया कि ड्राइवर किशना राम से अहम जानकारियां हासिल हुई हैं। आरोपी ने बताया कि पानीपत और करनाल के बीच हाेटल पर उसे गैस टैंकर का स्टेयरिंग संभलवाया गया था। उसे बताया था कि तुमसे वॉट्सएप के जरिए संपर्क रहेगा। डायरेक्शन मिलती रहेगी, जिसके अनुसार टैंकर लेकर आगे बढ़ते रहना है। हिसार पहुंचने पर टैंकर को किसी होटल पर खड़ा कर दूसरे ड्राइवर को गाड़ी सौंपनी थी। जो टैंकर को जोधपुर पहुंचाने के लिए लेकर जाता।

चेन सिस्टम से सप्लाई होती है शराब

शराब माफिया एक्साइज टैक्स बचाने और मुनाफा कमाने के लिए चालबाजी करते हैं। ऐसा एक मामला चौधरीवास गांव में सामने आया था। पुलिस ने ट्रक रुकवाकर उसके चालक सोमबीर को पकड़कर 1350 अवैध शराब की पेटियों को जब्त किया था। आरोपी ने बताया था कि रायपुर से झुंपा बॉर्डर तक ट्रक पहुंचाने की जिम्मेदारी थी। इसके बाद दूसरा ड्राइवर उसे लेकर जाता। चेन सिस्टम से अवैध शराब की पेटियों को अरूणाचल प्रदेश पहुंचाना था। इस काम के लिए उसे महज 5 हजार रुपए मिलने थे।

करीब 3-4 साल पहले इसी तरह सीआईए टीम ने सिरसा रोड से शराब की पेटियों से लोड ट्रक जब्त किया था। इसे भी चेन सिस्टम की तर्ज पर चालक बदल-बदलकर मंजिल तक पहुंचाना था, लेकिन उससे पहले ही माल जब्त हाे गया।

No comments:

Post a Comment