/>

Breaking

Saturday, August 15, 2020

तहसीलदार के घर जब मारा छापा, पैसे गिनने में बीत गए काफी घंटे, देखिये तस्वीरें

तहसीलदार के घर जब मारा छापा, पैसे गिनने में बीत गए काफी घंटे, देखिये तस्वीरें

ये खबर तेलंगाना प्रदेश की है लेकिन इस घटना को जानना हरियाणा के लोगो के लिए भी जरुरी है इसलिए हरियाणा बुलेटिन न्ययूज़ इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित कर रहा है, क्योकि हरियाणा प्रदेश मे जमीनों के दाम देश मे सबसे ज्यादा है और इसी तरह के ना जाने कितने मामले प्रदेश के गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल, पानीपत,सोनीपत ,झज्जर, रोहतक , अम्बाला , पंचकुला,भिवानी, जींद, कैथल,हिसार,सिरसा,फतेहाबाद,कुरुक्षेत्र,करनाल, यमुनानगर, रेवाड़ी,महेंद्रगढ़, मेवात के जिला मुख्यालय व व्यापारिक क्षेत्र या राष्ट्रिय हाईवे के साथ लगी जमीन के आते होगे और नतीजा क्या होता होगा ? 

दिल्ली : तहसीलदारों की कमाई कितनी हो सकती है इसका अंदाजा आप एसीबी की इस छापेमारी के बाद लगा सकते हैं। तहसील परिसरों में किस प्रकार से भ्रष्टाचार का खेल खेला जाता है और आम लोगों को लूटा जाता है, इसका उदाहरण आपके सामने है।

ज्यादात्तर लोगों ने तहसीलों में रजिस्ट्री के लिए धक्के खाए होंगे। कभी कागज कम तो कभी कुछ बहाना बनाकर टालमटोल करने वाले तहसीलदार अक्सर पैसे मिलते की तुरंत काम करते हैं।

सा ही मामला सामने आया है तेलंगाना प्रदेश के कोसारी जिले से।  पर जब एसीबी की टीम ने छापेमारी की तो तहसीलदार के घर से एक करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम रिश्वत के तौर पर लेते हुए पाया गया। एसीबी की टीम ने जब पैसे गिनने शुरु किये तो घंटों का समय बीत गया।

दरअसल तेलंगाना में एंटी करप्शन ब्यूरो(एसीबी) की टीम ने शुक्रवार को मेड़चल-मलकजगिरी जिले के किसरारा गांव के तहसीलदार इरवा बलाराजू नागराजू के आवास पर छापा मारा और 1 करोड़ रुपये नकदी बरामद की ।
किसारा के तहसीलदार नागराजू ए एस राव के घर और दफ्तर में अभी और भी छानबीन की जा रही है। तहसीलदार ने रामपल्ली में 28 एकड़ जमीन का सेटलमेंट कराने के लिए 1 करोड़ 10 लाख रुपये की घूस ली थी रिश्वत लेते समय एसीबी की टीम ने ने छापा मारकर तहसीलदार को रंगे हाथों पकड़ लिया।

इस कार्यवाही को करवाने वाले व्यक्ति या लोगो या संस्था को हरियाणा बुलेटिन न्यूज़ की टीम सलाम करती है व ऐसे जुझारू लोगो से अनुरोध करती है की हमसे 9802110050 पर whatsapp या कॉल के माद्यम से सुबह 10 बजे से 5 बजे तक सम्पर्क करे ताकि हम और आप मिलकर हो रहे अन्याय के खिलाफ आवाज 

No comments:

Post a Comment