/>

Breaking

Wednesday, September 23, 2020

जनसुई हेड के पास हादसा:अम्बाला से पिता का शव घर लाते वक्त बेटे की कार नहर में गिरी, सौतेली मां की मौत, खुद तैर कर बचा

जनसुई हेड के पास हादसा:अम्बाला से पिता का शव घर लाते वक्त बेटे की कार नहर में गिरी, सौतेली मां की मौत, खुद तैर कर बचा

अम्बाला : सोमवार रात को करीब साढ़े 11 बजे अम्बाला के जनसुई हेड के पास नहर में ऑल्टो कार गिरने से 44 वर्षीय जरनैल कौर की मौत हो गई। जबकि करीब 25 वर्षीय सौतेला बेटा सुखबीर सिंह लाडी तैर कर बाहर निकल आया। कार की पिछली सीट पर जरनैल कौर के पति 59 वर्षीय कुलदीप सिंह की लाश पड़ी थी। सुखबीर ने पुलिस को बताया कि सोमवार रात को पिता कुलदीप को दिल का दौर पड़ा था।
इस्माइलाबाद से पिता व मां को कार में लेकर अम्बाला सिटी के डॉ. संतराम अरोड़ा के अस्पताल में आए थे। डॉक्टर ने कुलदीप को मृत घोषित कर दिया। उसके बाद जब शव लेकर जा रहे थे तो जनसुई हेड के पास अचानक कार के आगे कुत्ता आ गया और कार नहर में गिर गई। नग्गल पुलिस के मुताबिक सुखबीर ने बताया कि वह तैर कर निकल गया था। जरनैल कौर व कुलदीप के शव मंगलवार सुबह निकाले गए।
क्रेन से कार निकाली तो कुलदीप का शव उसी में फंसा था जबकि जरनैल कौर का कुछ दूरी पर बरामद हुआ। एसएचओ धर्मवीर सिंह ने बताया कि मंगलवार को शवों का पोस्टमार्टम कराया गया है। फिलहाल इत्तफाकिया हादसे की कार्रवाई की गई है। यह परिवार मूल रूप से शाहबाद के गांव दामली का रहने वाला है। जो काफी समय से इस्माइलाबाद में रह रहा था। कुलदीप कुछ समय पहले ही बिजली निगम में फोरमैन पद से रिटायर हुए थे। जिन्हें सोमवार रात में हार्ट अटैक आया था। बेटा पहले इस्माइलाबाद लेकर गया था। बाद में पिता को दिखाने के लिए सिटी चला गया था। पिता के शव को पिछली सीट पर रखा हुआ था और बेटा गाड़ी चला रहा था। मां अगली सीट पर बैठी हुई थी।

दूसरे बेटे की छत से गिरकर मौत हुई थी

कस्बे में एक ही परिवार के दो लोगों की मौत से मातम पसर गया। दुर्घटना में एक बेटा बाल बाल बच गया। पिता की हार्ट अटैक व माता की कार नहर में गिरने के बाद डूबने से मौत हो गई। मंगलवार को गमगीन माहौल में दोनों का अंतिम संस्कार किया गया। एक साथ दो चिताओं से हर किसी की आंख नम हो गई। बता दें कि कुछ वर्ष पूर्व इस दंपति के छोटे बेटे की भी हादसे में मौत हो गई थी। सुखबीर सिंह उर्फ लाडी ने बताया कि उसके पिता की सोमवार की रात को अचानक तबीयत खराब हो गई। वह और उनकी मां उन्हें अम्बाला के एक प्राइवेट अस्पताल में ले गए। वहां पर डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वे जब अपने पिता के शव लेकर आ रहे थे तो जनसुई हेड के निकट अचानक कार के आगे जानवर आ गया। कार का संतुलन बिगड़ गया। इसके चलते कार नहर में जा गिरी। वह तैरकर किनारे पर आ गया। जबकि उसकी सौतेली मां करीब 44 वर्षीय जरनैल कौर की डूबने से मौत हो गई।

कुलदीप की साढ़े चार माह पहले हुई थी दूसरी शादी

कुलदीप सिंह की पहली पत्नी की कुछ साल पहले मौत हो गई थी। करीब साढ़े चार साल पहले कुलदीप ने जरनैल कौर से दूसरी शादी की थी। पहली पत्नी से दो लड़के सुखबीर सिंह और प्रभजोत सिंह हुए। बताया जाता है कि कुछ साल पहले प्रभजोत की घर की छत से गिरने से मौत हो गई थी। सुखबीर सिंह की करीब साढ़े चार महीने पहले ही शादी हुई थी। कुलदीप की दूसरी पत्नी जरनैल कौर से कोई संतान नहीं थी।

No comments:

Post a Comment