/>

Breaking

Tuesday, September 22, 2020

कलयुगी बेटे-बहु ने बुजुर्ग मां पर लगाया चोरी का इल्जाम, बेहोश होने तक पीटा

कलयुगी बेटे-बहु ने बुजुर्ग मां पर लगाया चोरी का इल्जाम, बेहोश होने तक पीटा

फरीदाबाद : प्रदेश में बुजुर्गों पर अत्याचार बढ़ते ही जा रहे हैं और जिला फरीदाबाद तो अत्याचार की हद भी ख़त्म कर चूका है। लगातार जिले से बुजुर्गों के साथ होने वाली हैवानियत सामने आ रही है। आज जिले के  गांव चंदावली में प्रॉपर्टी के विवाद में बेटे-बहू ने मिलकर 61 वर्षीय बुजुर्ग महिला को डंडे से बुरी तरह पीट दिया। बुजुर्ग महिला तो उनके खुद के बच्चों ने तब तक पीटा, जब तक वो बेहोश नहीं हो गई। डंडे की मार से महिला की पीठ में नीले निशान पड़ गए। महिला के छोटे बेटे की शिकायत पर सदर बल्लभगढ़ थाना पुलिस ने तुरंत संज्ञान लिया। मुकदमा दर्ज कर आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया है। 

जन स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत तृतीय श्रेणी कर्मी गांव चंदावली निवासी जसवीर ने बताया है कि मां कृष्णा देवी उनके पास रहती हैं। बड़ा भाई जोगेंद्र और उसकी पत्नी कुसुम कई साल से गांव में ही अलग रहते हैं। पिता की मुत्यु के बाद जायदाद में मिले हिस्से को लेकर दोनों असंतुष्ट हैं। इस कारण आए दिन मां के साथ झगड़ा करते हैं। आज कृष्णा देवी पशुओं को चारा डालने तबेले में गई थी। जोगेंद्र के पशु भी वहीं बंधते हैं। 

आरोप है कि जोगेंद्र और उसकी पत्नी कुसुम तबेले में पहुंच गए। उन्होंने कृष्णा देवी पर उनकी भैंस को चोरी से दुहने का आरोप लगाकर झगड़ा किया। विरोध करने पर कुसुम ने डंडा उठाकर उनकी पीठ पर दे मारा। दोनों उन्हें खींचकर पास बने कमरे में ले गए। वहां कुसुम ने उन्हें कमर व हाथ पर डंडे से कई वार किए। जोगेंद्र ने भी पत्नी का साथ दिया। कृष्णा के शोर मचाने पर छोटे बेटे जसवीर की पत्नी रीता वहां पहुंची और उन्हें बचाया। 

जोगेंद्र और कुसुम ने दोबारा तबेले में आने पर उन्हें जान से मारने की धमकी दी और चले गए। जसवीर की शिकायत के आधार पर जोगेंद्र व कुसुम के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। जोगेंद्र को गिरफ्तार कर लिया गया है, कुसुम की गिरफ्तारी जल्द होगी।

No comments:

Post a Comment