/>

Breaking

Thursday, September 24, 2020

रोहतक में दर्दनाक वाकया:डॉक्टर ने जहर खाकर सुसाइड किया; पता चलते ही

रोहतक में दर्दनाक वाकया:डॉक्टर ने जहर खाकर सुसाइड किया; पता चलते ही पत्नी ने 2 बेटियों के साथ वाटर टैंक में छलांग लगाई, एक बेटी की जान बची

हरियाणा के रोहतक में एक डॉक्टर ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। इसका पता जैसे ही डॉक्टर की पत्नी को चला, वह दो बेटियों को लेकर वाटर टैंक में कूद गई। इसमें पत्नी और छोटी बच्ची की मौत हो गई, जबकि बड़ी बेटी बच गई। वह तैरकर टैंक से बाहर निकल आई।

पुलिस के मुताबिक, डॉक्टर प्रमोद सहारण रोहतक की हेल्थ यूनिवर्सिटी के नर्सिंग कॉलेज में प्रोफेसर थे। उन्होंने बुधवार शाम को 6 बजे कन्हेली गांव के पास जहर खाया लिया। शव उनकी कार से कुछ पड़ा मिला। डॉक्टर की जेब से जहर के 5 पाउच भी मिले। डॉक्टर ने मरने से पहले एक सुसाइड नोट भी छोड़ा था, लेकिन उसमें सुसाइड की वजह नहीं लिखी।

सोनीपत रोड के वाटर टैंक में डॉक्टर की पत्नी ने छलांग लगाई

प्रमोद के सुसाइड की खबर जैसे ही पत्नी मीनाक्षी को मिली तो वह दो बेटियों को स्कूटी पर बैठाकर घर से चली गई। सोनीपत रोड स्थित सेक्टर-2 के वाटर टैंक (जलघर) में अपनी दो बेटियों के साथ छलांग लगा दी। छोटी बेटी और मीनाक्षी की डूबने से मौत हो गई। बड़ी बेटी बच निकली। डॉक्टर की पत्नी और बेटी का शव गुरुवार सुबह वाटर टैंक से निकाला गया।

घटनास्थल पर पहुंची पुलिस टीम जांच करते हुए।

डॉक्टर ने ये लिखा था सुसाइड नोट में

डॉक्टर प्रमोद सहारण ने सुसाइड नोट में लिखा था- जिंदगी की भागदौड़ से तंग आ गए हैं। भगवान ही उनकी मौत का जिम्मेदार है। किसी दूसरे को पुलिस कसूरवार न ठहराए। डॉक्टर प्रमोद मूलरूप से राजस्थान के राजगढ़ जिले के रहने वाले थे। उनकी शादी चरखीदादरी की मीनाक्षी सांगवान से हो रखी थी। मीनाक्षी सरकारी स्कूल में बायोलॉजी की लेक्चरर थी।

No comments:

Post a Comment