/>

Breaking

Sunday, February 7, 2021

भतेरी देवी आत्महत्या प्रकरण में मुख्य आरोपी दलाल गिरफ्तार -अब तक हो चुकी तीन गिरफ्तारी

भतेरी देवी आत्महत्या प्रकरण में मुख्य आरोपी दलाल गिरफ्तार-अब तक हो चुकी तीन गिरफ्तारी

जींद : उचाना के एसडीएम कार्यालय में कार्यरत रही महिला कंप्यूटर ऑपरेटर आत्महत्या मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी अलीपुरा गांव के पप्पू को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। इस मामले के दो आरोपियों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।
गौरतलब है कि खटकड़ गांव की 34 वर्षीय भतेरी देवी करीब 2 साल से एसडीएम कार्यालय उचाना में कंप्यूटर ऑपरेटर के पद पर कार्यरत थी। उसने 31 दिसंबर रात को खटकड़ गांव स्थित घर पर ही जहर निगल लिया था और बाद में उसकी मौत हो चुकी थी। मृतका के पास से पुलिस को सुसाइड नोट व वॉयस रिकॉर्डिंग भी मिली थी, उसमें आरोप लगाए थे कि एसडीएम उचाना राजेश कोथ, स्टाफ सदस्य एमटीएस सुखदेव, डीईओ अतुल, एमटीएस अर्जुन, संदीप क्लर्क, प्रवीण क्लर्क, भारत भूषण जेपी, डीईओ मन्नु श्योकंद उससे फर्जी कार्य करवाते थे और टाइपिस्ट दीपा, टाइपिस्ट तरसेम, दलबीर सिंह गिल अलीपुरा, बलकार घसो से पैसे भी लेते थे। उसका यूजर नेम और पासवर्ड का प्रयोग कर रसीद काट देते थे। इसका खामियाजा उसको भुगतना पड़ता था। यही लोग उसके साथ छेडख़ाड़ कर उसे परेशान करते थे। 
पुलिस ने मृतका के पति दिनेश की शिकायत पर एसडीएम राजेश कोथ समेत 12 लोगों को नामजद कर उनके खिलाफ आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने, छेड़छाड़ करने तथा परेशान करने के आरोप में विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी थी। उचाना थाना प्रभारी रविंद्र कुमार ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी अलीपुरा गांव के पप्पू को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी पप्पू एसडीएम कार्यालय में दलाली करता था और पैसे लेकर लोगों के कार्य करवाता था।

No comments:

Post a Comment