/>

Breaking

Friday, February 19, 2021

टिकैत की दो टूक:चुनाव में किसी दल का न समर्थन न विराेध, हमें समर्थन दे ताे हर्ज नहीं पर उसे मंच नहीं

टिकैत की दो टूक:चुनाव में किसी दल का न समर्थन न विराेध, हमें समर्थन दे ताे हर्ज नहीं पर उसे मंच नहीं


हिसार : किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि किसान आंदाेलन में अनेक राजनीतिक दल और नेता भी भागीदारी कर रहे हैं। लेकिन उनकी ओर से आगामी चुनाव में न ताे किसी पार्टी काे समर्थन दिया जाएगा और न ही किसी का विराेध किया जाएगा।
आंदाेलन और धरने के दौरान यदि किसी पार्टी का नेता समर्थन करता है ताे उसमें काेई हर्ज नहीं हैं। वह गुरुवार शाम काे सेक्टर 16-17 में किसान नेता रणदीप लाेहचब के आवास पर पत्रकाराें से रूबरू थे। हरियाणा में अभय चाैटाला के इस्तीफे और कांग्रेस नेताओं के किसान आंदाेलन के समर्थन पर बाेलते हुए टिकैत ने कहा कि यह फैसला राजनीतिक दलाें द्वारा अपने अपने स्तर पर लिया जा रहा है।

किसान आंदाेलन के दाैरान किसी पार्टी के नेता विशेष काे मंच से बाेलने की इजाजत कतई नहीं है। उन्हाेंने कहा कि केंद्र सरकार काे केवल बड़े औद्योगिक घरानाें और व्यापारियाें काे चिंता ज्यादा है। किसान आंदाेलन में जाट समाज की प्रमुख भागीदारी हाेने के सवाल का जवाब देते हुए टिकैत ने कहा कि यह प्रॉपेगैंडा सत्तादल का फैलाया हुआ है। इस आंदाेलन में देश और प्रदेश की 36 बिरादरी के लाेग शामिल है। सभी जाति वर्ग बढ़चढ़ हिस्सा ले रहा है।
पंजाब में निकाय चुनाव के परिणामाें पर बाेलते हुए कहा कि यह परिणाम वहां की जनता ने सुनाया है। आने वाले राज्याें के चुनाव में स्थानीय मतदाता इसी तरह अपना निर्णय सुनाएंगे। इस माैके पर किसान यूनियन के राष्ट्रीय महासचिव युद्धवीर सिंह, दिलबाग सिंह हुड्डा, राजेंद्र अार्य राेड, संदीप राेड एडवाेकेट, साहिल जामिनी, शमशेर आर्य, जेपी ज्याणी सहित कई लोग माैजूद रहे।

No comments:

Post a Comment