/>

Breaking

Saturday, October 9, 2021

अस्पतालों में बगैर वर्दी के नहीं आएंगे डाक्टर : विज

अस्पतालों में बगैर वर्दी के नहीं आएंगे डाक्टर: विज
चंडीगढ़ :  हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने प्रदेश में मेडिकल व पैरा मेडिकल स्टाफ की वर्दी को लेकर छिड़े विवाद पर विराम लगाते हुए कहा है कि यह आदेश उनके जारी किए गए हैं। डयूटी के समय कोई भी मेडिकल तथा पैरामेडिकल स्टाफ तय मानकों के अनुसार वर्दी पहनेगा। डाक्टरों के लिए सफेद कोट अनिवार्य होगा।
आज यहां पत्रकारों से बातचीत में अनिल विज ने कहा कि देखने में आया है कि मेडिकल तथा पैरा मेडिकल स्टाफ के लोग वर्दी नहीं पहनते हैं। जिस कारण अस्पतालों में मरीज तथा उनके तीमारदार डाक्टरों को पहचान नहीं पाते हैं और उन्हें भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। डाक्टर उनके पास घूम रहा होता है और मरीज को पता भी नहीं चलता। ऐसे में वर्दी पहनना अनिवार्य किया गया है। सभी कर्मचारी तय ड्रैस कोड के अनुसार ही आएंगे।
पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिद्धू द्वारा दिए ब्यान पर कटाक्ष करते हुए अनिल विज ने कहा कि देश में सब कुछ ठीक चल रहा है केवल सिद्धू के उल्टा चश्मा लगा हुआ है। विज ने कहा कि यह जो विपक्ष पार्टी है यह मुद्दा विहीन पार्टियां है, अब यह दल देश में शांति को भंग करना चाहते हैं। लखीमपुर में जो घटना हुई है सरकार उसकी जांच करवा रही है। 
भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा दस अक्टूबर से विपक्ष आपके द्वार कार्यक्रम पर टिप्पणी करते हुए विज ने कहा कि अब हुड्डा भी अपनी डूबती हुई किश्ती को बचाकर रखना चाहते हैं। अब उनके विधायक भी उनके खिलाफ बोलने लगे हैं। उनकी पार्टी अध्यक्ष भी उनको कोई महत्व नहीं दे रही है, ऐसे में वह किसी प्रकार से अपने आप को जिंदा रखने के लिए वह लोगों के बीच जाने की बात कह रहे हैं।
गुरुवार को अम्बाला जिले के नारायणगढ़ में किसानों और सांसद नायब सैनी के बीच हुए विवाद के बारे में गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि दोनों पक्षों की ओर से रपट दर्ज कर ली गई है और इस मामले में डीएसपी को जांच के आदेश जारी कर दिए गए हैं। जांच के बाद जो भी तथ्य सामने आएंगे उस पर कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a Comment