Breaking

Showing posts with label haryana news. Show all posts
Showing posts with label haryana news. Show all posts

Saturday, October 24, 2020

October 24, 2020

बॉक्सर सूरज रोहिल्ला ने शुरू की बेटी बचाओ बेटी खिलाओ साइकिल यात्रा

बॉक्सर सूरज रोहिल्ला ने शुरू की बेटी बचाओ बेटी खिलाओ साइकिल यात्रा

जींद : जिले के फतेहगढ़ गांव के बॉक्सिंग खिलाड़ी सूरज रोहिल्ला ने एक "बेटी बचाओ, बेटी खिलाओ" अभियान की शुरुआत की है, सूरज रोहिल्ला ने बताया कि यह यात्रा उसकी 1 सप्ताह की रहेगी जिसमें वह हर दिन अलग-अलग गांव में जाकर "बेटी बचाओ, बेटी खिलाओ" के प्रति लोगों को जागरूक करेंगे । सूरज रोहिल्ला का मानना है कि उसके इस अभियान से अगर 100 लोग भी जागरूक होंगे तो उसका यह अभियान सफल है । सूरज रोहिल्ला की यह यात्रा 24 अक्टूबर को  "रोहतक रोड राइडर्स क्लब" द्वारा समाप्त कि जाएगी इसकी समाप्ति क्लब के मिलन मलहोत्रा, सीमा नैन और मनीर राणा द्वारा होगी । यात्रा की शुरुआत गांव के लोगों ने राष्ट्रीय ध्वज दिखाकर की, इस मौके पर गांव के सरपंच सतीश कुमार, ब्लॉक समिति मेंबर जगजीत सिंह पांचाल, राजबीर रोहिल्ला, सुभाष रोहिल्ला, राज सिंह रोहिल्ला, राजेश रोहिल्ला, जयभगवान पहलवान, जयभगवान रोहिल्ला, मनफूल सिंह रोहिल्ला, दयानंद रोहिल्ला, आजाद रोहिल्ला आदि उपस्थित रहे ।

October 24, 2020

डिप्टी सीएम के पास पहुंचे 34 गांव के सरपंच एसोसिएशन, तो संबंधित अधिकारियों को किया जवाब-तलब

डिप्टी सीएम के पास पहुंचे 34 गांव के सरपंच एसोसिएशन, तो संबंधित अधिकारियों को किया जवाब-तलब

चंडीगढ़ :  गुरुग्राम शहर से लगते करीबन तीन दर्जन गांव नगर निगम  का हिस्सा नहीं बनना चाहते। इन गांवों के लोग पंचायती राज से जुड़े रहना चाहते हैं। इस मांग को लेकर गुरुग्राम सरपंच एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने शुक्रवार को चंडीगढ़ में डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला से मुलाकात की। दुष्यंत चौटाला ने इस मामले को लेकर संबंधित अधिकारियों को अपने कार्यालय में तलब किया और मामले का हल निकालने के आदेश दिए।
गुरुग्राम से आए सरपंचों व पंचों ने उपमुख्यमंत्री को बताया कि हाल ही में नगर निगम का दायरा बढ़ाने को लेकर एक अधिसूचना जारी की गई है। इस अधिसूचना के तहत गुरुग्राम के आसपास से लगते लगभग 38 गांव निगम से जोड़ने के लिए प्रस्तावित है।

इनमें 34 गांवों के लोग गुरुग्राम नगर निगम से नहीं जुड़ना चाहते हैं। सरपंच एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बताया कि इन गांवों के लोगों की मांग है कि उन्हें पंचायती राज व्यवस्था से जोड़ा रखा जाए ताकि पंचायतें अपनी इच्छा के अनुसार गांव में विकास कार्यों को करवा सकें। इनमें से 28 गांवों की पंचायतों ने गुरुग्राम नगर निगम से न जोड़ने को लेकर प्रस्ताव पास भी कर दिए हैं।
इस संबंध में आज एसोसिएशन ने एक ज्ञापन भी डिप्टी सीएम को सौंपा। इस मौके पर जेजेपी जिलाध्यक्ष ऋषि राज राणा, गुरुग्राम सरपंच एसोसिएशन के प्रधान श्याम सुंदर, सतपाल ढांगू, कनैहा दोलताबाद, सरपंच वीर सिंह बजहेड़ा, रामबीर राणा, रामनिवास राणा, लीला सरपंच आदि शामिल रहे।

28 पंचायातों ने पास किया प्रस्ताव

गुरुग्राम सरपंच एसोसिएशन के प्रधान श्याम सुंदर ने बताया कि गुरुग्राम नगर निगम में शामिल न होने को लेकर 28 ग्राम पंचायतों ने प्रस्ताव पास किया है। जिनमें गांव बजछेडा, बाबूपुर, धर्मपुर,दोलताबाद, खेड़की माजरा, धनकोट, गढ़ी, हयातपुर, मोहम्मदहेड़ा काकरोला, सिकंदरपुर बड़ा, नवादा, नाहरपुर,नखडोला, रामपुरा, शिकोहपुर, नोरंगपुर, खो, मानेसर, कासन, पलड़ा, भांगरोला, बास हाटियां,बास कुसला, ढाणा, भोंडसी, उल्लावास और नया गांव शामिल है।
October 24, 2020

ऑनलाइन हनीट्रैप:फतेहाबाद में भाजपा नेता को वीडियो कॉल की, फिर पत्नी और भाई को अश्लील वीडियो भेजकर ब्लैकमेल किया

ऑनलाइन हनीट्रैप:फतेहाबाद में भाजपा नेता को वीडियो कॉल की, फिर पत्नी और भाई को अश्लील वीडियो भेजकर ब्लैकमेल किया

फतेहाबाद : फतेहाबाद के स्थानीय भाजपा नेता और वार्ड-10 के पार्षद प्रतिनिधि सुनील उर्फ सोनू कक्कड़ को फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर उसके बाद मैसेंजर के जरिए वीडियो कॉल करके ऑनलाइन हनीट्रैप में फंसाने का मामला सामने आया है। इलाके में चर्चा का विषय बने इस मामले को लेकर एक तरफ जहां कानूनी कार्रवाई पुलिस के द्वारा शुरू कर दी गई है, वहीं दूसरी तरफ सोशल मीडिया के जरिए बीजेपी नेता ने साजिश के तहत बदनाम करने का आरोप लगाया है।
बीजेपी नेता सुनील उर्फ सोनू कुक्कड़ की शिकायत पर शहर थाना पुलिस ने आईपीसी की धारा 384 के तहत अदाया राजपूत नाम की लड़की के खिलाफ केस दर्ज किया गया है, क्योंकि इसी नाम से फेसबुक फ्रेंड रिक्वेस्ट बीजेपी नेता सुनील उर्फ सोनू कक्कड़ को प्राप्त हुई थी, जिसके बाद मैसेंजर पर वीडियो कॉल करके बीजेपी नेता से बात की गई।

मैसेंजर पर भेजा अश्लील वीडियो

सोनू कुक्कड़ ने दावा किया है कि वीडियो कॉल के बाद उसकी पत्नी और भाई के मैसेंजर पर एक अश्लील वीडियो भेजा गया, जिसमें ऊपर का हिस्सा यानी चेहरे से लेकर कमर तक का हिस्सा मेरा (सोनू कुक्कड़) है जबकि कमर से नीचे का हिस्सा किसी और का है और इस वीडियो का डर दिखाते हुए आरोपी ने पैसे की डिमांड की।
सोनू कक्कड़ ने बताया कि बदनामी को लेकर काफी डर के कारण पेटीएम और गूगल-पे के थ्रू 11-11 हजार रुपए आरोपी को भेजे गए। बीजेपी नेता ने दावा किया कि फतेहाबाद के एसपी की तरफ से अभी तक की पड़ताल में बताया गया है कि जिन नंबरों के जरिए कांटेक्ट किया गया है, यह सभी नंबर यूपी और बिहार के हैं। ऐसे में पुलिस की टीमें साइबर टीम के साथ पूरे केस की गंभीरता से जांच कर रही हैं और पूरे केस का दूध का दूध और पानी का पानी पुलिस कर देगी।

*लड़की के खिलाफ ब्लैकमेलिंग के आरोप में केस दर्ज*

वहीं डीएसपी सुभाष चन्द्र ने कहा है कि स्थानीय नेता सुनील उर्फ सोनू कक्कड़ की शिकायत पर अदाया राजपूत नाम की फेसबुक आईडी वाली लड़की के खिलाफ ब्लैकमेलिंग के आरोप में केस दर्ज कर लिया गया है। केस की जांच के लिए साइबर एक्सपर्ट की मदद ली जा रही है और जल्द ही इस पूरे मामले को ट्रेस करके आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
October 24, 2020

एक माह के अंदर दूसरी घटना, अब महिला एएसआई ने निगल लिया जहर

एक माह के अंदर दूसरी घटना, अब महिला एएसआई ने निगल लिया जहर

रोहतक : सदर थाने में तैनात महिला एएसआई ने जहरीला पदार्थ निगलकर आत्महत्या  कर ली। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

मामले के अनुसार, मूलरूप से भिवानी की रहने वाली 37 वर्षीय पपीता काफी समय से सदर थाने में तैनात थी। जो अपने पति के साथ पीडब्ल्यूडी क्वार्टर में रहती थी। शुक्रवार देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में जहरीला पदार्थ निगल लिया। कुछ ही देर में उसकी हालत बिगड़ने लगी।
पता चलने के बाद परिवार के सदस्यों ने उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पर शनिवार सुबह एएसआई ने दम तोड़ दिया। बताया जा रहा है कि वह काफी दिनों से बीमार चल रही थी। इस वजह से वह काफी परेशान थी। सदर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर शमशेर सिंह ने बताया कि आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका।
प्राथमिक जांच में बीमारी से परेशान होने की बात सामने आई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। उधर, एएसआइ की आत्महत्या का पता चलते ही पुलिस के उच्च अधिकारियों ने भी मामले की जानकारी ली।
गौरतलब है कि करीब एक माह पहले पुलिस लाइन में तैनात हेड कांस्टेबल 38 वर्षीय सतेंद्र मलिक ने सुखपुरा चौक के पास स्थित अपने कमरे में कनपटी पर गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। सतेंद्र मलिक रोहतक पुलिस की स्वैट टीम में भी बतौर कमांडो तैनात रह चुके थे। मामले में पारिवारिक विवाद की बात सामने आई थी। एक माह के अंदर पुलिसकर्मी की आत्महत्या का यह दूसरा मामला है।
October 24, 2020

यात्रियों को होगी मुश्किल:रेलवे ने 4 तक पंजाब में रद्द किया यात्री ट्रेनों का संचालन

यात्रियों को होगी मुश्किल:रेलवे ने 4 तक पंजाब में रद्द किया यात्री ट्रेनों का संचालन

अम्बाला : कृषि कानूनाें के खिलाफ पंजाब में किसानों का आंदोलन लंबा चलेगा और इसे भांपते हुए रेलवे ने अब 4 नवंबर तक पंजाब में ट्रेनों का संचालन रद्द कर दिया है। पहले रेलवे दो-दो दिन ट्रेनों को रद्द करने की घोषणा बीते 1 माह से कर रहा था, मगर अब रेलवे ने सीधे 4 नवंबर तक 18 सामान्य और 32 फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों को रद्द करने की घोषणा कर दी है।
इसके अलावा 41 ट्रेनों को अलग-अलग स्टेशनों पर टर्मिनेट किया जाएगा। रेलवे के इस निर्णय से त्याेहार पर घर जाने वाले लाखों यात्रियों को मायूसी होगी। खासकर पंजाब से यूपी व बिहार जाने वाले यात्रियों को अब सड़क मार्ग से अम्बाला कैंट स्टेशन पर आकर ट्रेनें पकड़नी पड़ेगी। सीनियर डीसीएम हरि मोहन ने बताया कि यात्री यदि ट्रेन से सफर कर रहे हैं तो सफर से पहले वह ट्रेन की वर्तमान स्थिति अवश्य चेक कर लें।

4 नवंबर तक यह ट्रेनें रद्द

ट्रेन नंबर 02425-26 नई दिल्ली-जम्मूतवी राजधानी एक्सप्रेस, 02054-53 हरिद्वार-अमृतसर जनशताब्दी, 22439-40 नई दिल्ली-कटरा वंदे भारत एक्सप्रेस, 02461-62 नई दिल्ली-कटरा स्पेशल एक्सप्रेस, 02011-12 नई दिल्ली-कालका शताब्दी एक्सप्रेस, 02029-30 नई दिल्ली-अमृतसर स्वर्ण शताब्दी, 04624-23 अमृतसर-सहरसा एक्सप्रेस, 04656-55 फिरोजपुर-पटना एक्सप्रेस और 05251-52 रद्द रहेगी।

फेस्टिवल स्पेशल जो हुई रद्द

02422-21 जम्मू-अजमेर एक्सप्रेस, 02231-32 लखनऊ-चंडीगढ़ एक्सप्रेस, 04888-87 ऋषिकेश-बाडमेर एक्सप्रेस, 04519-20 दिल्ली-बठिंडा एक्सप्रेस, 02471-72 श्रीगंगानगर-दिल्ली एक्सप्रेस, 04998-97 बठिंडा-वाराणसी एक्सप्रेस, 04612-11 कटरा-वाराणसी एक्सप्रेस, 04401-02 नई दिल्ली-कटरा एक्सप्रेस, 04924-23 चंडीगढ़-गोरखपुर एक्सप्रेस, 02587-88 गोरखपुर-जम्मूतवी एक्सप्रेस, 05097-98 भागलपुर-जम्मूतवी एक्सप्रेस, 03255-56 पाटलीपुत्र-चंडीगढ़ एक्सप्रेस, 09027-28 बांद्रा टर्मिनल-जम्मूतवी एक्सप्रेस, 09611-12 अजमेर-अमृतसर एक्सप्रेस, 09613-14 अमृतसर-अजमेर एक्सप्रेस, 02331-32 हावड़ा-जम्मूतवी एक्सप्रेस रद्द रहेगी।

शार्ट टर्मिनेट होने वाली ट्रेनें

02903-04 अमृतसर-मुंबई सेंट्रल, 02925-26 अमृतसर-बांद्रा एक्सप्रेस, 02715-16 नांदेड-अमृतसर एक्सप्रेस, 03307-08 धनबाद-फिरोजपुर एक्सप्रेस, 04649-50 जयनगर-अमृतसर एक्सप्रेस, 04673-74 जयनगर-अमृतसर एक्सप्रेस, 02057-58 नई दिल्ली ऊना हिमाचल एक्सप्रेस, 04653-54 न्यू जलपाईगुड़ी-अमृतसर एक्सप्रेस, 02237-38 जम्मूतवी-वाराणसी एक्सप्रेस, 02407-08 न्यू जलपाईगुड़ी-अमृतसर एक्सप्रेस, 02357-58 कोलकाता-अमृतसर एक्सप्रेस, 05933-34 डिब्रूगढ़-अमृतसर एक्सप्रेस, 04651-52 जयनगर-अमृतसर एक्सप्रेस, 09025-26 बांद्रा टर्मिनल-अमृतसर एक्सप्रेस, 02025-26 न्यू जलपाईगुड़ी-अमृतसर एक्सप्रेस, 04131-32 प्रयाग-उद्यमपुर एक्सप्रेस, 02355-56 पटना-जम्मूतवी एक्सप्रेस, 08237-38 अमृतसर-गेवरा रोड एक्सप्रेस, 09717-18 जयपुर-दौलतपुरा चौक, 03255 पाटलीपुत्र-चंडीगढ़ और 08215-16 दुर्ग-जम्मूतवी एक्सप्रेस को अलग-अलग स्टेशनों पर शार्ट टर्मिनेट किया जाएगा।
October 24, 2020

अवैध कब्जा:प्राचीन किले की जमीन पर 270 परिवारों का कब्जा, कमिश्नर ने दिए निशानदेही के आदेश

अवैध कब्जा:प्राचीन किले की जमीन पर 270 परिवारों का कब्जा, कमिश्नर ने दिए निशानदेही के आदेश

जींद : प्राचीन किले की लगभग 61 मरले 1 कनाल जमीन पर सालों से लोगों ने कब्जा किया हुआ है। कई लोगों ने पक्के मकान भी बना लिए हैं। इन कब्जों को हटवाने के लिए एक बार फिर नगर परिषद प्रशासन गंभीरता से विचार कर रहा है। इस मामले में हिसार रेंज के कमिश्नर की तरफ से किले पर कब्जा किए गए जमीन की निशानदेही करवाने के आदेश दिए हैं और जल्द रिपोर्ट करने को कहा है ताकि पीपी एक्ट के तहत दोबारा से केस दायर कर जमीन कब्जे से वापस ली जा सके।
आदेश मिलने के बाद तहसीलदार जींद की तरफ से निशानदेही का काम करवाया जा रहा है। किले की 61 मरले 1 कनाल पर जमीन पर लगभग 270 मकान बने हुए हैं। नगर परिषद का कहना है कि यह जमीन उनके अधीन है जबकि लोग इसे अपनी बताते आ रहे हैं। अब निशानदेही का काम पूरा होने के बाद इस मामले को एसडीएम कोर्ट में पीपी एक्ट के तहत दायर करने की तैयारी की जा रही है ताकि कब्जे को हटाकर जमीन नगर परिषद के अधीन ली जा सके।
यहां बता दे कि यह किले की जमीन पहले नगर सुधार मंडल के अधीन आती थी। नगर सुधार मंडल के भंग होने के बाद मंडल के अधीन आने वाली सभी जमीनों को नगर परिषद के अधीन कर दिया गया। 2016-17 में यह जमीनें नगर परिषद के अधीन आई थी। उसके बाद 2017-18 में नगर परिषद ने इस जगह निशानदेही करवाई थी। निशानदेही के बाद नगर परिषद ने एसडीएम कोर्ट में पीपी एक्ट के तहत केस दायर किए थे, लेकिन सुनवाई के दौरान कई लोगों ने रजिस्ट्री व मलकीयत के सबूत सौंप दिए। इसके बाद एसडीएम ने सभी केस वापस नगर परिषद को भेज दिए थे। इस मामले में अब हिसार कमिश्नर ने दोबारा निशानदेही करवाकर रिपोर्ट के आदेश दिए हुए हैं।

2.5 एकड़ में कब्जा छुड़वा बनाया पार्क

नगर परिषद ने 2017-18 में इस पूरे एरिया की निशानदेही करवाई थी। तब लगभग 2.5 एकड़ में नगर परिषद ने कब्जा हटवाया था। उसके बाद इस एरिया में पार्क निर्माण की घोषणा सीएम ने की थी। यहां पर महात्मा ज्योतिबा फुले पार्क का निर्माण लगभग डेढ़ साल से किया जा रहा है। अधिकतर पार्क का काम हो चुका है और इस समय पौधे लगाने का काम किया जा रहा है।

नगर सुधार मंडल ने भी दिए थे नोटिस

लंबे समय से कब्जाधारियों को नगर सुधार मंडल ने नोटिस जारी कर जमीन खाली करने के निर्देश दिए थे, लेकिन लोगों ने जमीन खाली नहीं की।
*कानूनगों को निर्देश देकर रिपोर्ट मांगी है : मनोज*
किले की जमीन की निशानदेही के निर्देश आए थे। उसके बाद कानूनगो को निर्देश देकर रिपोर्ट मांगी गई है। अब तक कानूनगो की तरफ से रिपोर्ट नहीं मिली है। -मनोज अहलावत, तहसीलदार, जींद

October 24, 2020

अकेले सुरक्षित सफर कर सकेंगी महिलाएं:ट्रेनों में अब महिला सुरक्षा के लिए आरपीएफ ने की ‘मेरी सहेली’ योजना की शुरुआत

अकेले सुरक्षित सफर कर सकेंगी महिलाएं:ट्रेनों में अब महिला सुरक्षा के लिए आरपीएफ ने की 'मेरी सहेली' योजना की शुरुआत

अम्बाला : ट्रेनों में महिला यात्रियों को सुरक्षा देने के लिए देशभर में आरपीएफ ने "मेरी सहेली' योजना की शुरुआत की है। ट्रेन में अकेले सफर कर रही महिला यात्रियों की पहचान कर उन्हें सफर के दौरान सुरक्षा दी जाएगी। साथ ही उनकी निगरानी भी होगी। सीनियर डीसीएम हरि मोहन ने बताया कि अम्बाला कैंट रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ के 3 महिला स्टाफ की टीम गठित की गई है, जिसमें एसआई निशा, कांस्टेबल प्रियंका सहगल व नीलम ढाका शामिल हैं।
यह टीम महिला यात्रियों को जागरूक करेगी और अकेले सफर कर रही महिला यात्रियों की डिटेल हासिल कर उसे रेल मंडल के नियंत्रण कक्ष में देगी। नियंत्रण कक्ष से उक्त सूचना ट्रेन के अगले ठहराव रेलवे स्टेशनों पर आरपीएफ पोस्ट के स्टाफ को दी जाएगी।
इस दौरान ट्रेन आने पर वहां का स्टाफ पहुंचने पर ट्रेन को चेक करेगा और महिला यात्री की सुरक्षा को सुनिश्चित करेगा। रेल मंडल के अंतिम स्टेशन पर पहुंचने के बाद अगले रेल मंडल को महिला यात्री की जानकारी आरपीएफ द्वारा दी जाएगी, ताकि अंतिम स्टेशन तक महिला यात्री सुरक्षित पहुंच सके। डीआरएम गुरिंद्र मोहन सिंह ने महिला सुरक्षा के लिए गठन इस टीम को बेहतर कार्य करने के निर्देश दिए।

*ऐसे काम करेगी महिलाओं की सुरक्षा में लगी टीम*

आप कहां जा रही हैं? आपका अनुभव कैसा रहा? किसी ने परेशान करने की काेशिश की? पानी, सफाई या ऐसी काेई और समस्या ताे नहीं रही? कुछ ऐसे भी सवाल अब आरपीएफ महिला कर्मचारी महिला रेल यात्रियाें से उनकी सहेली बनकर पूछतीं नजर आएंगी। देशभर के सभी रेलवे मंडलाें में सहेली स्क्वाॅयड के तहत महिला कर्मचारियाें की तैनाती की है। हिसार रेलवे स्टेशन पर टीम की इंचार्ज साेनिया देवी काे बनाया गया। उनकी टीम में ज्याेति, सुनिता शामिल हैं। टीम ने काम शुरू कर दिया है। यह टीम ट्रेनाें में यात्रा कर रहीं महिलाओं से बात करती है। हिसार आरपीएफ थाना प्रभारी बीरबल कुमार ने बताया कि महिला यात्रियाें की सुरक्षा के मद्देनजर जानकारी हासिल की जा रही है।