Breaking

Showing posts with label Jind News. Show all posts
Showing posts with label Jind News. Show all posts

Sunday, October 18, 2020

October 18, 2020

जींद जेल में कैदी के साथ कुकर्म, जज के सामने दुखड़ा सुनाया

जींद जेल में कैदी के साथ कुकर्म, जज के सामने दुखड़ा सुनाया

 जींद : ( संजय तिरँगाधारी ) जिला कारागार में अपहरण कर दुष्कर्म करने के मामले में उम्रकैद के सजायाफ्ता कैदी के साथ कुकर्म करने का मामला सामने आया है। अदालत के माध्यम से मिली शिकायत के आधार पर सिविल लाइन थाना पुलिस ने पीडि़त कैदी की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ कुकर्म का मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
जिला कारागार में अपहरण कर दुष्कर्म के मामले में उम्रकैद की सजा भुगत रहे एक कैदी ने अदालत में शिकायत देकर कहा था कि वह पिछले लगभग आठ साल से सजा काट रहा है और उसकी ड्यूटी जेल ओल्ड मैस में लगाई गई है। गत 26 सितम्बर को अल सुबह वह ओल्ड मैस में था। उसी दौरान एक बंदी वहां आया और उसके साथ कुकर्म किया। जिसके बाद आरोपित वहां से चला गया, घटना के बारे में जेल अधिकारियों को अवगत करवाया गया लेकिन उसकी शिकायत पर कोई संज्ञान नहीं लिया।
कैदी ने निरीक्षण पर पहुंचे जज के सामने अपना दुखड़ा सुनाया और साथ ही लिखित में शिकायत भी दी। जिसके आधार पर सिविल लाइन थाना पुलिस ने कैदी की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ कुकर्म का मामला दर्ज किया है।
डीएसपी साधुराम ने बताया कि जज जेल में निरीक्षण के लिए गए हुए थे। जहां पर कैदी ने आरोप लगाते हुए शिकायत दी। जिसके आधार पर मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

Saturday, October 17, 2020

October 17, 2020

छात्र जीवन में बच्चों को हर तरह के मानसिक तनाव से दूर रहना चाहिए: डॉ. राजेश भोला

छात्र जीवन में बच्चों को हर तरह के मानसिक तनाव से दूर रहना चाहिए: डॉ. राजेश भोला

जींद : ( संजय तिरँगधारी )स्वास्थ्य विभाग के सब सेंटर पांडू पिंडारा में शुक्रवार को मेंटल हैल्थ सप्ताह के तहत जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्यअतिथि के तौर पर नागरिक अस्पताल के डिप्टी एमएस डा. राजेश भोला ने शिरकत की। कार्यक्रम का उद्देश्य आमजन को मानसिक बीमारियों के प्रति जागरूक करना रहा। 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डिप्टी एमएस डा. राजेश भोला ने कहा कि किसी भी शारीरिक बीमारी के लक्षण दिखते ही हम तुरंत डॉक्टर से सलाह लेते हैं लेकिन यह भूल जाते हैं कि शरीर की तरह कभी हमारा मन भी बीमार हो सकता है और उसे भी पूरी देखभाल की जरूरत होती है। शरीर की भांति हमारा मन भी अलग-अलग लक्षणों के जरिये इस बात का संकेत दे रहा होता है कि उसे कोई तकलीफ  है। जिसे सही समय पर दूर करना आवश्यक है लेकिन जागरूकता के अभाव में हम इसके लक्षणों को पहचान नहीं पाते हैं। मेंटल हेल्थ को लेकर आज भी कई लोग इसके लक्षणों को जानबूझ कर नजरअंदाज करने की कौशिश करते हैं जो आगे चल कर किसी गंभीर मनोरोग का रूप धारण कर लेते हैं। उन्होंने कहा कि 
मानसिक परेशानियों के संदर्भ में सबसे अहम बात यह है कि इनसे पीडि़त व्यक्ति को स्वयं इसके लक्षणों का आभास नहीं होता है। ऐसी स्थिति में परिवार वालों और दोस्तों की यह जिम्मेदारी बनती है कि अगर उन्हें अपने आसपास किसी व्यक्ति में यहां बताए गए लक्षण दिखाई दें तो वे बिना देर किए उसे क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट के पास ले जाएं। उन्होंने बताया कि कुछ नया पाने और कुछ खो जाने का डर हमें अपने जीवन में तनाव और डिप्रेशन की तरफ  ले जाता है, इसीलिए इसे बचने की कौशिश करनी चाहिए और अपनी इच्छाओं पर कंट्रोल करना चाहिए। इसके अलावा छात्रों को परीक्षा या किसी दूसरे काम को कभी भी मानसिक बोझ नहीं बनने देना चाहिए। छात्र जीवन में बच्चों को हर तरह के मानसिक तनाव से दूर रहना चाहिए। तनाव दूर करने के लिए खेलों और मनोरंजक गतिविधियों में भाग लेना चाहिए। कोई भी परेशानी हो, उसे अपने परिजनों से अवगत करवाना चाहिए। उन्होंने सरकार द्वारा उपलब्ध करवाई जा रही मानसिक स्वास्थ्य संबंधि सुविधाओं के बारे में जानकारी दी। इस मौके पर 
रवि, दिनेश, सुनील कुमारी, सुमन, मंजू, अंजलि, कविता, शीला, निर्मल
सहित हैल्थ वर्कर्स भी मौजूद रही।
October 17, 2020

रेप के आरोपी पुलिसकर्मी को अदालत ने भेजा जेल

रेप के आरोपी पुलिसकर्मी को अदालत ने भेजा जेल

जींद : फेसबुक पर दोस्ती कर और फिर एक होटल में बुलाकर युवती से रेप करने के आरोपी हांसी में तैनात पुलिस कर्मी अमीर को अदालत ने जेल भेज दिया है।

शहर की एक कालोनी की 28 वर्षीय युवती ने महिला थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि उसकी दरियावाला गांव निवासी अमीर पुलिस कर्मचारी के साथ करीब 3 महीने पहले फेसबुक के माध्यम से दोस्ती हुई थी। धीरे-धीरे मोबाइल फोन पर बातचीत होने लगी। उसके बाद पुलिसकर्मी ने उससे मिलने को कहा। इस पर कई बार उसने मना भी किया, लेकिन वह फिर लगातार मिलने की कहता रहा। फिर 13 अक्तूबर रात को उसने शहर के अमन पैलेस में बुलाया। जहां पर उसके साथ जबरदस्ती रेप किया। जब उसने विरोध किया तो पुलिसकर्मी ने मारपीट कर जान से मारने की धमकी दी। महिला थाना पुलिस ने इस मामले में पुलिसकर्मी को नामजद कर उसके खिलाफ मारपीट करने, जान से मारने की धमकी देने तथा रेप करने के आरोप में विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था। जांच अधिकारी राजेश कुमारी ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में आरोपी अमीर को कोर्ट में पेश किया, जहां कोर्ट के आदेश पर उसे जेल भेज दिया है।

Tuesday, September 22, 2020

September 22, 2020

कान में किसी भी तरह की समस्या को इग्नोर न कर ईएनटी डॉक्टर को तुरंत कंसल्ट करना चाहिए : डॉ. भोला

कान में किसी भी तरह की समस्या को इग्नोर न कर ईएनटी डॉक्टर को तुरंत कंसल्ट करना चाहिए : डॉ. भोला

जींद : ( संजय तिरँगाधारी )कान शरीर का नाजुक अंग, इससे न करना तुम जंग, परदे पर लग गई चोट तो जीवन भर का लग जाएगा रोग। स्वास्थ्य विभाग द्वारा कर्ण एवं श्रवण सुरक्षा को लेकर आगामी सप्ताह तक पखवाड़ा मनाया जा रहा है। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा सीएमओ डा. मनजीत सिंह के दिशा-निर्देशन में मंगलवार को नागरिक अस्पताल में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डिप्टी एमएस डा. राजेश भोला ने कहा कि सभी तरह की आवाजों को सुनने के लिए हमारे कानों का सही रहना जरूरी है लेकिन कई बार बीमारी या लापरवाही की वजह से लोग हियरिंग लॉस का शिकार हो जाते हैं। अगर समय रहते इसका उपचार करवाया जाए तो इससे बचा जा सकता है। डा. भोला ने बताया कि कई बार जब तक हमें पता चलता है कि सुनने में कोई दिक्कत हो रही है तब तक कान के 30 प्रतिशत हियर सेल्स नष्ट हो जाते हैं। कान में किसी भी तरह की समस्या हियरिंग लॉस का कारण बन सकती है। कान से वैक्स का बहना, सर्दी, जुखाम रहना और कान में दर्द होना, कान लाल होना, कान में अत्यधिक मात्रा में वैक्स बनना, वैक्स साफ  न होने के कारण इंफेक्शन होना या पस पडऩा, पस का बाहर निकलना, बुखार होना, कानों में सीटी जैसी आवाजें सुनाई देना इसके मुख्य कारण हैं। जब भी ऐसा हो तो इसे तुरंत प्रभाव से गंभीरता से लेना चाहि। डा. भोला ने बताया कि कान में किसी भी तरह की समस्या को इग्नोर न कर ईएनटी डॉक्टर को तुरंत कंसल्ट करना चाहिए। डॉक्टर कान के अंदरूनी भाग की जांच कर इंफेक्शन का पता लगाते हैं और ऑटोमाइकोटिक प्लग लगा कर इंफेक्शन को साफ  करते हैं। कान में डालने के लिए एंटी फंगल या एंटी बैक्टीरियल ईयर ड्रॉप्स और एंटीबायोटिक दवाइयां दी जाती हैं। उन्होंने कहा कि बच्चों को लेकर तो अभिभावकों को हमेशा सतर्क रहना चाहिए। जब भी सर्दी-जुखाम के बाद कान दर्द हो रहा हो तो ईएनटी सर्जन को तुरंत दिखाना चाहिए। नियमित तौर पर कान की सफाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कानों को लेकर छोटी सी लापरवाही भी भारी पड़ सकती है। इसलिए हमेशा अपने कानों का ध्यान रखना चाहिए। समय-समय पर अपनी श्रवण क्षमता की जांच जरूर करनी चाहिए और समस्या को इग्नोर न कर इलाज कराना चाहिए।

Sunday, September 13, 2020

September 13, 2020

ट्रेन में सीट अब टिकट से नहीं बल्कि रर्जिवेशन करवाने पर मिलेगी

जींद : ट्रेन में सीट अब टिकट से नहीं बल्कि रर्जिवेशन करवाने पर मिलेगी

 जींद : ( संजय तिरँगाधारी )  कोरोना संक्रमण की वजह से मार्च महीने में लगे लॉकडाउन  के छह महीने बाद अब रेलवे ने जींद यात्रियों के लिए बेशक अवध-असम एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव जींद जंक्शन पर सुनिश्चित किया हो लेकिन अभी जींद जंक्शन के काउंटर से किसी यात्री ने इस ट्रेन मेें अभी रिजर्वेशन नहीं करवाया है। बता दें कि रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए 12 सितंबर से 40 स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है। इसमें अवध-असम एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव जींद  जंक्शन पर सुनिश्च किया गया है। 12 सितंबर से दिल्ली-डिब्रूगढ़ से लालगढ़ रूट पर 05909 अवध-असम एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन शुरू हुआ। यह ट्रेन 12 सितंबर को डिबरूगढ़ से सुबह नौ बजकर 25 मिनट पर चली, जो 14 सितंबर की शाम सात बज कर दस मिनट पर जींद जंक्शन पर पहुंचेगी।
 
 यहां दो मिनट के ठहराव के बाद यह फिर ट्रेन लालगढ़ के लिए रवाना हो जाएगी। वापसी में 05910 अवध-असम एक्सप्रेस लालगढ़ से शाम सात बजकर 50 मिनट पर वहां से चलेगी और अगले दिन सुबह लगभग चार बजे जींद जंक्शन पर पहुंचेगी। हालांकि सितंबर माह में जींद जंक्शन से किसी यात्री ने टिकट बुक नहीं करवाई। जींद रेलवे जंक्शन के रिजर्वेशन अधिकारी विक्रम सिंह के अनुसार नवंबर व दिसबंर माह के लिए अभी से ऑनलाइन रिजर्वेशन बुक हो गई हैं। फिलहाल जींद जंक्शन से किसी यात्री ने नहीं करवाया रिजर्वेशन जींद जंक्शन के एसएस जयप्रकाश ने बताया कि सितंबर से अवध-असम एक्सप्रेस ट्रेन डिब्रूगढ़ से चलकर 14 सितंबर को शाम के समय जींद जक्शन पर पहुंचेगी। जींद जंक्शन पर काउंटर से किसी यात्री ने कोई टिकट रिजर्वेशन नहीं करवाया है। हालांकि रेलवे ने यात्रियों की सुरक्षा के लिए सैनिटाइजर व सोशल डिस्टेंसिंग कायम करने के लिए आरपीएफ की ड्यूटी लगा रखी है।

 आज परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए चलेगी स्पेशल ट्रेन नैशनल एलिजिबिलिटी कम एंटेंरस टैस्ट की परीक्षा को लेकर परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए रेलवे ने जींद से दिल्ली के बीच एक स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला लिया है। यह ट्रेन सुबह के समय जींद से चलेगी और शाम को वापस नई दिल्ली से चलेगी। इसके चलने से परीक्षार्थियों को खासी राहत मिलेगी। रेलवे इस स्पेशल ट्रेन को केवल एक दिन के ही चलाएगा। यह स्पेशल ट्रेन जींद जंक्शन से सुबह साढ़े 8 बजे नई दिल्ली के लिए चलेगी और उसके बाद शाम को 7 बजकर 10 मिनट पर वापस जींद के लिए रवाना होगी। इस ट्रेन में सफर करने से पहले परीक्षार्थियों तथा अन्य यात्रियों को एक बात का विशेष ख्याल रखना पड़ेगा। 
 इस ट्रेन में सफर करने से पहले यात्रियों को टिकट रिर्जेवशन करवानी होगी। तभी इस ट्रेन में सफर कर सकेंगे अन्यथा किसी भी स्टेशन पर यात्री को टिकट नहीं मिलेगी। बिना रिर्जेवेशन करवाए यात्री को सफर से वंचित रहना पड़ेगा। इस स्पेशल ट्रेन के लिए रेलवे ने टिकटों की रिर्जेवेशन प्रक्रिया शुरू कर दी है। रेलवे स्टेशन मास्टर जयप्रकाश ने बताया कि रविवार को होने वाली नीट की परीक्षा को लेकर रेलवे ने जींद से नई दिल्ली के लिए एक स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला लिया है। यह ट्रेन जींद जंक्शन से सुबह साढ़े 8 बजे चलेगी जो कि वापसी के समय नई दिल्ली से शाम को 7 बजकर 10 मिनट पर जींद के लिए रवाना होगी। इस स्पेशल ट्रेन में सफर करने को लेकर यात्रियों को रिर्जेवेशन करवानी होगीए तभी इस ट्रेन में सफर कर सकते हैं। जबकि किसी भी स्टेशन पर यात्रियों को टिकट नहीं मिलेगी। इसके अलावा 15909 अवध-असम एक्सप्रेस का भी संचालन शुरू हो गया हैए जो कि 14 सितंबर को जींद जंक्शन पर पहुंच जाएगी।

Saturday, September 12, 2020

September 12, 2020

एक और ट्रेन शुरू:14 सितंबर को जींद जंक्शन पर 172 दिन बाद जींद-बठिंडा मार्ग पर ट्रेन, स्टेशन अधीक्षक ने महामारी से निपटने को बनाई रणनीति

एक और ट्रेन शुरू:14 सितंबर को जींद जंक्शन पर 172 दिन बाद जींद-बठिंडा मार्ग पर ट्रेन, स्टेशन अधीक्षक ने महामारी से निपटने को बनाई रणनीति

जींद रेलवे जंक्शन स्टेशन पर बनाए गए सोशल डिस्टेंसिंग के गोलदारे, स्टेशन पर मेन इंट्री गेट पर होगी थर्मल स्कैनिंग व हैंडवॉश करने के बाद ही प्रवेश कर सकेंगे यात्री

जींद : ( संजय तिरँगाधारी ) 12 सितंबर से अवध-असम ट्रेेन का संचालन शुरू हो जाएगा, यह ट्रेन डिब्रूगढ़ से चलकर 14 सितंबर को यहां पहुंचेगी। यात्रियों को काेराेना से बचाने की रणनीति तैयार कर ली है। महामारी के चलते 22 मार्च से रेल सेवा बंद पड़ी है और अब 172 दिन बाद 14 सितंबर को ट्रेन बहाल हो रही है। दिल्ली-जींद-बठिंडा मार्ग पर ट्रेन चलाने को लेकर रेलवे ने हरी झंडी दे दी है। अभी तक जींद जंक्शन से कोई भी पैसेंजर या एक्सप्रेस ट्रेन नहीं गुजर रही।
जींद से फिलहाल दिल्ली, बठिंडा, कुरुक्षेत्र, पानीपत, सोनीपत की तरफ रेलवे ट्रैक हैं लेकिन इन पर अभी तक कोई भी ट्रेन कोरोना काल के बाद शुरू नहीं हो पाई है। अब रेलवे ने 12 सितंबर से 40 और ट्रेनों को चलाने के लिए जो हरी झंडी दी है, उसमें एक एक्सप्रेस ट्रेन दिल्ली-जींद बठिंडा मार्ग पर भी चलेगी। इन ट्रेनों को चलाने का सर्कुलर भी रेलवे बोर्ड के अधिकारियों ने जारी कर दिया है।
जींद जंक्शन पर ट्रेन आने को लेकर स्टेशन अधीक्षक ने स्टेशन पर ही सोशल डिस्टेंसिंग के एक मीटर में गोलदारे बनाए हैं और यात्रियों की मेन गेट से इंट्री के दौरान थर्मल स्कैनिंग की जाएगी। इसके लिए प्रत्येक प्लेटफार्म पर कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है और अगर किसी ने नियमों की अवहेलना की तो जुर्माना भी लगाया जा सकता है। इसके लिए यात्रियों को जागरूक करने के लिए कर्मचारियों ड्यूटी लगाई है।

रिजर्वेशन कराने पर ही सफर की अनुमति

रेलवे प्रशासन के अनुसार ट्रेन में रिजर्वेशन कराए हुए यात्रियों को ही सफर करने की अनुमति दी जाएगी। बिना रिजर्वेशन के ट्रेन में किसी भी यात्री को सफर करने की अनुमति नहीं होगी। ट्रेनों की रिजर्वेशन गुरुवार से शुरू हो चुकी है।

यह रहेगा ट्रेन का शेड्यूल

12 सितंबर से दिल्ली-डिब्रूगढ़ से लालगढ़ रूट पर 05909 अवध असम एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन शुरू कर दिया जाएगा। ट्रेन 12 सितंबर को डिब्रूगढ़ से सुबह 9:25 बजे चलेगी और उसके बाद 14 सितंबर को शाम को 7:10 पर जींद जंक्शन पर पहुंचेगी। यहां 2 मिनट के ठहराव के बाद यह फिर लालगढ़ के लिए रवाना हो जाएगी। वापसी में 05910 अवध असम एक्सप्रेस लालगढ़ से शाम 7:50 बजे चलेगी और दूसरे दिन 15 सितंबर को सुबह 4 बजे के करीब जींद जंक्शन पर पहुंचेगी।

जींद जंक्शन पर होगा अवध-असम का ठहराव

अवध-असम एक्सप्रेस का ठहराव जींद जंक्शन पर 14 सितंबर को किया जाएगा। इसके साथ ही महामारी से बचने के लिए स्टेशन पर सोशल डिस्टेंसिंग के गोलदारे बनाए गए हैं और यात्रियों की मेन गेट से इंट्री पर थर्मल स्कैनिंग की जाएगी। जयप्रकाश, स्टेशन अधीक्षक जींद जंक्शन रेलवे।
September 12, 2020

जींद : भिवानी रोड फाटक पर आरओबी बनेगा या अंडरपास, पीडब्ल्यूडी और रेलवे ने किया ज्वाइंट सर्वे

जींद : भिवानी रोड फाटक पर आरओबी बनेगा या अंडरपास, पीडब्ल्यूडी और रेलवे ने किया ज्वाइंट सर्वे

 जींद : ( संजय तिरँगाधारी ) शहर में भिवानी रोड रेलवे फाटक पर रेलवे ओवरब्रिज बनेगा या अंडरपास  इसे लेकर लोक निर्माण विभाग  के अधिकारियों ने रेलवे अधिकारियों के साथ मिलकर ज्वाइंट सर्वे  किया और यू आकार के अंडरपास की संभावनाएं तलाशी। इस दौरान भिवानी रोड के दुकानदार भी मौजूद रहे, जो पिछले काफी समय से आरओबी(रेलवे ओवर ब्रिज) का विरोध कर यू आकार का अंडरपास बनाने की मांग करते आ रहे हैं।
भिवानी रोड रेलवे फाटक पर आरओबी निर्माण के लिए लोक निर्माण विभाग ने पिछले साल सितंबर में 16 करोड़ रुपये का टेंडर छोड़ा था। इसके बाद नवंबर में संबंधित ठेकेदार ने आरओबी निर्माण के लिए पाइल टेस्टिंग कार्य शुरू किया लेकिन इसका दुकानदारों ने विरोध कर दिया। दुकानदार अंडरपास की मांग करते रहे और इसे लेकर विधायक से लेकर डिप्टी सीएम तक मिले और अपनी समस्या से अवगत करवाते हुए रेलवे ओवर ब्रिज की बजाय अंडरपास बनाने की मांग की। आखिर में दुकानदारों के लगतार विरोध और विधायक कृष्ण मिढ़ा के हस्तक्षेप करने के बाद निर्माण कार्य की फाइल सीएम कार्यालय भेजी गई। सीएम कार्यालय द्वारा अंतिम बार इसका सर्वे करने के लिए लोक निर्माण विभाग और रेलवे को पत्र भेजा, जिसके बाद वीरवार को रेलवे अधिकारियों तथा लोक निर्माण विभाग ने ज्वाइंट सर्वे किया।

यू आकार के अंरपास बनने की प्रबल संभावना

भिवानी रोड दुकानदारों के अनुसार वीरवार को सर्वे के बाद रेलवे अधिकारियों ने बताया कि यू आकार के अंडरपास की संभावना है। इससे दुकानदारों की प्रॉपर्टी को कोई नुकसान होगा नहीऔर फाटक भी हट जाएगी । यहां पर लाइट व्हीकल के गुजरने के लिए अंडरपास बनाया जा सकता है। इसमें साढ़े तीन मीटर ऊंचाई वाले वाहन निकल सकेंगे। बड़े वाहन रजबाहा नंबर 7 पर बने अंडरपास से होकर जा सकेंगे। भिवानी रोड सीधा बस स्टैंड से जुड़ जाएगा।

दाे-तीन दिन में हो जाएगा फाइनल : नैन

लोक निर्माण विभाग के एक्सईएन नवनीत नैन ने बताया कि दो या तीन दिन में यह फाइनल हो जाएगा कि यहां पर रेलवे ओवर ब्रिज बनेगा या अंडरपास बनाया जाएगा। वीरवार को किए गए सर्वे की रिपोर्ट को मुख्यालय भेजा जाएगा।

Thursday, September 10, 2020

September 10, 2020

लिंग जांच का खेल:50 हजार लेकर पोर्टेबल मशीन से करते थे भ्रूण लिंग जांच, जींद स्वास्थ्य विभाग ने करनाल के असंध में पकड़ा

लिंग जांच का खेल:50 हजार लेकर पोर्टेबल मशीन से करते थे भ्रूण लिंग जांच, जींद स्वास्थ्य विभाग ने करनाल के असंध में पकड़ा

जींद : ( संजय तिरँगाधारी ) जींद के स्वास्थ्य विभाग ने एक भ्रूण जांच के रैकेट का भंडाफोड़ किया है। भ्रूण जांच का यह खेल करनाल जिले के असंध कस्बे में चल रहा था। पुलिस ने जींद जिले के दलाल और असंध के उस मास्टरमाइंड को भी गिरफ्तार किया है जो पोर्टेबल अल्ट्रासाउंड मशीन से इसे अंजाम देता था। पुलिस ने चार के खिलाफ पीएनडीटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

गुप्त सूचना पर की स्वास्थ्य विभाग ने कार्रवाई

जिला जींद के स्वास्थ्य विभाग को सूचना मिल रही थी कि सफीदों एरिया में कुछ अज्ञात लोग गर्भ में लिंग का पता लगवाने के अवैध काम में संलिप्त है। स्वास्थ्य विभाग ने इस गुप्त सूत्र की सूचना के आधार पर डॉ प्रभु दयाल उप सिविल सर्जन की अध्यक्षता में एक जांच टीम का गठन किया। बुधवार को एक गर्भवती महिला को एक बिचौलिए के माध्यम से उसके गर्भ में पल रहे बच्चे के लिंग की जांच करवाने के लिए सफीदों के नजदीक के एक गांव के रहने वाले बिचौलिए से संपर्क करके भेजा।

50 हजार में तय हुआ सौदा

गर्भ लिंग जांच का मामला 50 हजार रुपये में तय हुआ और बिचौलिए ने गर्भवती महिला को असंध के सालवन चौक पर दोपहर 12 बजे बुलाया। असंध पहुंचने पर बिचौलिया एक मोटर साइकिल पर आया और उसने महिला से 50 हजार रूपये लिए उसके बाद उसने एक अन्य बिचौलिये को बुलवाया। वह भी मोटर साइकिल पर सवार होकर आया और गर्भवती महिला और उसके साथ आयी महिला को मोटरसाइकिल पर असंध शहर में गलियों से होते हुए लेकर गया।

पोर्टेबल मशीन से किया अल्ट्रासाउंड

असंध के रत्तर रोड पर एक मकान में उस महिला का अल्ट्रासाउंड एक पोर्टेबल अल्ट्रासाउंड मशीन द्वारा किया गया और उसके गर्भ में लड़का होना बताया। लगभग एक घंटे के बाद वह उसे सालवन चौक पर छोड़ कर चला गया। पहला बिचौलिया इसके बाद अपनी मोटर साइकिल से वहां से निकल गया। इस बिचौलिये को सफीदों के नजदीक से मोटर साइकिल का पीछा करके पकड़ लिया गया।
तलाशी में उसके पास से 14500 रूपये बरामद हुए। पूछताछ उपरांत उसने महिला का अल्ट्रासाउंड करवाना स्वीकार किया। इसके बाद टीम करनाल को भी सूचना दे दी गई और आगे की कार्रवाई करनाल टीम के साथ मिलकर की गई। महिला की निशानदेही पर असंध के जिस घर में महिला का अल्ट्रासाउंड हुआ था को भी ढूंड लिया गया और वहां जो व्यक्ति उस समय मौजूद था, को भी टीम ने वहीं से पकड़ लिया। जिस व्यक्ति ने अल्ट्रासाउंड की थी और जो व्यक्ति महिला को मोटरसाइकिल पर बैठकर लेकर आया था के बारे में जानकारी पकड़े गए व्यक्ति से जांच के दौरान पता चली।

पीएनडीटी एक्ट में दर्ज हुआ मामला

अल्ट्रासाउंड करने वाले व्यक्ति का नाम संजय निवासी फफडाना जिसकी फोटो को गर्भवती महिला ने पहचान कर दी, मोटरसाइकिल वाले लड़के की पहचान असंध में रत्तर रोड स्थित मकान मालिक ने कर दी। थाना असंध में चार लोगों विनोद निवासी धर्मगढ़ जिला जींद, अमरदीप निवासी असंध, संजय निवासी फफडाना, और मकान मालिक कृष्ण के विरुद्ध पीएनडीटी एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज किया गया है।
September 10, 2020

डॉ. भोला ने किया HR33 सैलून का उद्घाटन

डॉ भोला ने किया HR33 सैलून का उद्घाटन

जींद, 10 सितंबर ( संजय तिरँगाधारी )  आज तक आपने एचआर-33 को किसी गाड़ी के नंबर पर लिखा देखा होगा पर क्या कभी आपने ऐसा कभी सोचा भी था कि इस नंबर का प्रयोग एक दुकानदार द्वारा अपनी दुकान के नाम के प्रयोग को लेकर किया जाएगा। ऐसी ही अनूठी सोच को लेकर सफीदों में तेजवीर सिंह ने एचआर-33 हेयर सैलून से दुकान खोली है। इस अजीब नाम से दुकान के उद्घाटन को लेकर जब नागरिक अस्पताल के डिप्टी एमएस डा. राजेश भोला के पास निमंत्रण आया तो वो भी खुद को नहीं रोक सके। डा. भोला ने दुकान पर पहुंच कर एचआर-33 सैलून का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि उन्होंने जब दुकान का नाम सुना तो बहुत अचंभा हुआ। जब उन्होंने दुकान पर व्यवस्थाओं को देखा तो यहां कोविड संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए हर उपाय पहले किए जाने का प्रबंध किया गया। दुकान संचालक राममेहर सिंह, तेजवीर ने बताया कि सैलून में आने वाले को हेयर, ब्यूटी और स्किन से संबंधित हर सुविधा उपलब्ध होगी। हाथ धुलवाने, सेनेटाइजेशन, अलग से तोलिये व मास्क का प्रबंध किया गया है। सैलून में आने वाले हर ग्राहक की सेफ्टी का पूरा ध्यान रखा जाएगा। इस मौके पर अमन शर्मा, मनजीत शर्मा, अली, अमित, प्रेम आदि मौजूद रहे।
September 10, 2020

जींद में चोरों की मौज , दुकान से गल्ला चुराकर फरार

जींद में चोरों की मौज , दुकान से गल्ला चुराकर फरार...

जींद : ( संजय तिरँगाधारी ) जिले के सफीदों नगर के रेलवे रोड पर स्थित एक खल की दुकान से अज्ञात चोर दिन-दिहाड़े गल्ला उठाकर फरार हो गए। गल्ले में करीब 30 हजार रुपए व जरुरी कागजात थे। चोर अपने साथ मिर्ची पाऊडर भी लाए थे ताकि किसी विपरीत स्थिति  में उसका प्रयोग किया जा सके। गल्ला चोरी होने की सूचना जैसे ही रेलवे रोड पर दुकानदारों को लगी तो मौके पर काफी तादाद में दुकानदार एकत्रित हो गए।घटना की सूचना सफीदों पुलिस को दी गई। सिटी एस.एच.ओ. देवीलाल पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे औऱ घटनास्थल का जायजा लिया। 

जानकारी अनुसार नगर के रेलवे रोड पर स्थित गणपति खल भंडार का मालिक राजकुमार वर्मा शौच के लिए गया था। जब वह कुछ देर मे दुकान पर वापस लौटा तो वह यह देखकर हक्का-बक्का रह गया कि दुकान की गद्दी पर रखा लोहे का गल्ला नदारद है। दुकान में मिर्ची पाऊडर भी बिखरा हुआ था। राजकुमार समझने मों देर नहीं लगी औऱ उसने आसपास दुकानदारों से गल्ले बारे पूछा लेकर किसी भी चोरों को गला ले जाते हुए नहीं देखा। 
घटना की सूचना पाकर सिटी एस.एच.ओ, देवीलाल पुलिस टीम के साथ पुहंचे और जानकारी हासिल की। पुलिस ने रेलवे रोड व घोड़ापुली की दुकानों के सी.सी.टी.वी. कैमरों को भी खंगाला। समाचार लिखे जाने तक पुलिस कार्रवाई कर रही थी। वहीं पीड़ित दुकानदार राजकुमार ने बताया कि उसे हजारों रुपए, बैंक की पासबुक  व जरुरी कागजात का नुकसान हुआ है।  
September 10, 2020

शितलपुरी कालोनी के लोगों ने नगर परिषद के खिलाफ जमकर की नारेबाजी

शितलपुरी कालोनी के लोगों ने नगर परिषद के खिलाफ जमकर की नारेबाजी

जींद : ( संजय तिरँगाधारी ) शितलपुरी कालोनी के लोगों ने नगर परिषद के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गौरतलब है कि नरवाना रोड स्तिथ शितलपुरी कालोनी की गली पिछले 5 सालों से कच्ची पड़ी है लोगों ने बताया कि 2015 में गली में सीवर दबाने के लिए गली को उखाड़ा गया था उसके बाद से आज तक इस कालोनी की गली नहीं बनी 
जिसके कारण गलियों में कीचड़ हो जाता है बारिश के समय लोगों का गलियों से निकलना मुश्किल हो जाता है लोगों के घरों में बारिश का पानी घुस जाता है तथा सीवर भी ओवरफ्लो हो जाते है जिसके कारण लोगों के घरों में दुर्गन्ध हो जाती है लोग गंदगी में जीने को मजबूर है 
लोगों द्वारा डी०सी० साहब व जींद विधायक को कई बार लिखित में शिकायत दे चुके है पर इसपर कोई कार्यवाही  नहीं हुई लोगों में नगर परिषद के खिलाफ भारी रोष है 
अतुल चौहान ने बताया कि कालोनी वासियों की समस्या कई सालों से ज्यों की त्यों बनी हुई है इसपर कोई कार्यवाही नहीं हुई अगर इस समस्या का जल्दी समाधान नहीं होता है तो संगठन लोगों के साथ मिलकर रोड पर उतर नगर परिषद के खिलाफ प्रदर्शन करेगा और कानूनी कार्यवाही करेगे
इस मौके पर राजेश, डॉ. जयबीर,संदीप,राजेश दहिया,शमशेर,सत्यनारायण,कुलदीप,वीरभान,ज्ञानचंद,सुरेन्द्र मिस्त्री,सत्यवान,अमन,साधुराम पंडित मोजूद थे |
September 10, 2020

आंखों में स्प्रे डालकर ज्वैलर्स से छीने लाखों के गहने व नकदी

आंखों में स्प्रे डालकर ज्वैलर्स से छीने लाखों के गहने व नकदी

जींद : गांव सफाखेड़ी के निकट बीती रात जींद-पटियाला राष्ट्रीय राजमार्ग पर बाइक सवार बदमाशों ने ज्वैलर्स  की आंखों में स्प्रे डालकर सोना, चांदी के जेवरात व नकदी वाले बैग को छीन लिया और फरार हो गए। बैग में लाखों रुपये के जेवरात व 50 हजार रुपये की नकदी थी। उचाना थाना पुलिस  ने ज्वैलर्स की शिकायत पर अज्ञात बाइक सवार चार बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
गांव डूमरखा कलां निवासी दीपक ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह गांव खरकबूरा में ज्वैलर्स की दुकान चलाता है। हर रोज की भांति बीती रात वह दुकान को बंद कर अपने जेवरातों व नकदी को बैग में रखकर बाइक से घर वापस लौट रहा था। गांव सफाखेड़ी के निकट पीछे से आए दो बाइकों पर सवार चार बदमाशों ने उसकी आंखों में स्प्रे मारा। जिसके कारण उसे दिखाई देना बंद हो गया। युवक उसका बैग छीनकर नरवाना की तरफ फरार हो गए।
दीपक ने बताया कि बैग में 65 ग्राम सोना, 600 ग्राम चांदी, 50 हजार रुपये की नगदी थी। राहगीरों के सहयोग से उसने घटना की सूचना पुलिस को दी। बाद में पुलिस ने पूरे क्षेत्र की नाकेबंदी कर तलाशी अभियान चलाया लेकिन उनका कोई सुराग नहीं लगा। उचाना थाना पुलिस ने दीपक की शिकायत पर अज्ञात चार युवकों के खिलाफ छीना झपटी का मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
उचाना थाना प्रभारी कृष्ण ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। फिलहाल पुलिस ने ज्वैलर्स की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है। 

Wednesday, September 9, 2020

September 09, 2020

ईओ-प्रधान पति विवाद :पुलिस : भाजपा नेता व षार्षद की गिरफ्तारी के लिए कर रहे छापेमारी, नहीं मिल रहे; वकील : कल धनखड़ ने जवाहर के घर लिया था लंच

ईओ-प्रधान पति विवाद :पुलिस : भाजपा नेता व षार्षद की गिरफ्तारी के लिए कर रहे छापेमारी, नहीं मिल रहे; वकील : कल धनखड़ ने जवाहर के घर लिया था लंच

कोर्ट ने एसपी के माध्यम से मांगी स्टेटस रिपोर्ट, 15 सितंबर को फिर होगी सुनवाई

जींद : ईओ डॉ. एसके चौहान व भाजपा नेता जवाहर सैनी और पार्षद हरेंद्र उर्फ काला सैनी के विवाद के मामले में मंगलवार को जिला कोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने इस मामले में पुलिस से स्टेटस रिपोर्ट मांगी थी। सिविल लाइन पुलिस की तरफ से कोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट प्रस्तुत की गई। इसमें पुलिस की तरफ से कोर्ट को बताया गया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। जल्द उन्हें पकड़ लिया जाएगा।
इस पर ईओ के वकील प्रमोद गहलावत की तरफ से पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाया गया और कोर्ट को बताया गया कि सोमवार को इस मामले में आरोपित जवाहर सैनी के घर पर भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ का लंच था। इस दौरान काफी पुलिस भी तैनात थी। क्या पुलिस को आरोपित वहां दिखाई नहीं दिया और पुलिस ने रेड मारकर उसे गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया? इस पर संज्ञान लेते हुए कोर्ट ने आदेश दिए कि इस मामले में अगली स्टेटस रिपोर्ट एसपी के माध्यम से दी जाए। इसके अलावा जांच अधिकारी इस मामले में शपथ पत्र कोर्ट में दाखिल करे। इस मामले में अब अगली सुनवाई 15 सितंबर को निर्धारित की गई है।

दो बार पहले भी स्टेटस रिपोर्ट की प्रस्तुत

इस मामले में पुलिस की तरफ से पहले भी दो बार कोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट दाखिल की गई है। इसमें मामले को पुलिस की तरफ से बेसलेस बताया गया है। साथ ही आरोपित की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी करने की बात भी कही गई है, लेकिन आरोपितों का अब तक पता नहीं चल सका है।

धनखड़ ने सैनी के घर पर किया लंच, वहां पुलिस भी थी

इस मामले में आज माननीय कोर्ट ने स्टेटस रिपोर्ट मांगी थी। इसमें पुलिस ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है, लेकिन अब तक उनका पता नहीं चला है। इस पर हमने सवाल उठाए थे कि सोमवार को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ ने जवाहर सैनी के घर पर लंच किया। उस समय पुलिस भी मौजूद थी, लेकिन रेड कर पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। इस पर कोर्ट ने एसपी के माध्यम से 15 सितंबर को दोबारा स्टेटस रिपोर्ट मांगी है। प्रमोद गहलावत, वकील ईओ।

इधर, प्रधान के साइन न होने पर 250 से अधिक कर्मचारियों का वेतन रुका, डेढ़ करोड़ के बिल अटके

नगर परिषद में चल रहे विवाद का असर अब कर्मचारियों के वेतन व अन्य कार्यों के आए बिलों पर भी नजर आने लगा है। इस मामले में 11 अगस्त से लेकर अब तक कर्मचारियों के वेतन के बिल के अलावा बिजली, पानी सहित अन्य के बिल भी पास नहीं हुए हैं। ऐसे में कर्मचारियों की पिछले माह की सैलेरी अटक गई है। लगभग डेढ़ करोड़ से अधिक के बिलों पर प्रधान के साइन नहीं हुए हैं। साइन नहीं होने के कारण वेतन व अन्य बिलों का भुगतान नहीं हो पा रहा हैं। ऐसे में स्पष्ट है कि अब विवाद का असर कर्मचारियों व अन्य कार्यों पर दिखने लगा है। डेढ़ करोड़ में लगभग 1 करोड़ रुपए के बिल अकेले कर्मचारियों के वेतन के ही बनते हैं, जिसमें स्थाई व अस्थाई कर्मचारी शामिल हैं।

सरकार को बताएंगे सारा मामला

कर्मचारियों के वेतन व अन्य बिल रुकने का मामला मेरे संज्ञान में है। सैलरी व बिल निकालने की पावर ईओ और प्रधान की है। ऐसी स्थिति में वह सरकार को लिखकर पूरे मामले से अवगत कराएंगे। जैसे निर्देश मिलेंगे, उसी के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। डॉ. सुशील कुमार, जिला नगर आयुक्त, जींद।

Sunday, September 6, 2020

September 06, 2020

विकास की रेस में जींद, अगले कुछ सालों में बदल जाएगी सूरत

विकास की रेस में जींद, अगले कुछ सालों में बदल जाएगी सूरत

जींद। हरियाणा के पिछड़े जिलों में शुमार जींद की सूरत निकट भविष्य में बदलने वाली है। शहर में इंट्री करने वाली सभी सड़कें नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अधीन चौड़ी हो जाएंगी। चार रेल फाटकों पर ओवरब्रिज जल्द बनकर तैयार हो जाएंगे। जींद बाईपास का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। इस बाईपास पर पांच रोड ओवरब्रिज भी बने हैं, जिससे शहर के अंदर जाम की समस्या काफी कम हुई है।

जींद के चारों और और बन रही सड़के

किसी भी शहर का विकास अच्छी सड़क और रेल सुविधाओं से होता है। जींद जिला अभी तक इन दोनों सुविधाओं से वंचित रहा है। भाजपा सरकार आने के बाद नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआइ) ने जींद से रोहतक, भिवानी, गोहाना, करनाल और नरवाना जाने वाली सड़कों को अपने अधीन ले लिया है। अब इन सड़कों को चौड़ा करने व फाटकों पर पुल बनाने का काम तेजी से चल रहा है। 
रेल के मामले में भी अभी तक जींद पिछड़ा ही रहा है। कई दशक बाद दिल्ली से वाया जींद होकर फिरोजपुर, लुधियाना का ट्रैक डबल हुआ है। इन रूटों पर इलेक्ट्रिक ट्रेन भी कुछ दिन पहले ही शुरू हुई हैं। जींद से गोहाना तक नया ग्रीन फील्ड हाइवे, जींद से होकर गुजरने वाला इस्माइलाबाद से नारनौल हाइवे व दिल्ली-कटरा हाइवे भी जींद के विकास में अहम भूमिका निभाएंगे।

बन रहे नए हाईवे

केंद्र की मोदी व प्रदेश की मनोहर सरकार ने जींद जिले में सड़क तंत्र को मजबूत करने का निर्णय लिया है। जींद से भिवानी, करनाल, गोहाना, पानीपत, हांसी और नरवाना जाने वाले मार्गों को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित किया है। इनमें से जींद से नरवाना तक सड़क का फोरलेन का निर्माण पूरा हो चुका है। जींद से रोहतक तक फोरलेन का निर्माण कार्य भी तेज गति से शुरू हो चुका है। इस पर करीब 511 करोड़ रुपये खर्च होंगे। जींद से भिवानी, करनाल व गोहाना तक सड़क को भी 10 मीटर चौड़ा करने का काम अंतिम चरण में है।
एनएचएआइ ने जींद से दिल्ली तक कनेक्टिविटी को आसान करने के लिए जींद से गोहाना तक 816 करोड़ से नया 352ए-ग्रीनफील्ड हाइवे बनाने का काम शुरू कर दिया है। गोहाना से सोनीपत तक जो सड़क है, उसे फोरलेन किया जाएगा। इसके बाद जींद से सोनीपत तक ब्रेक लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। सोनीपत में इस हाइवे को दिल्ली-चंडीगढ़ हाइवे में जोड़ा जाएगा।
उत्तर हरियाणा को दक्षिण हरियाणा से जोड़ने के लिए कुरुक्षेत्र के न्यू इस्माइलाबाद के गांव गंगहेड़ी से नारनौल तक सिक्स लेन हाईवे बनाया जाएगा। भविष्य में इस हाईवे को आठ लेन तक बनाया जा सकेगा। एनएचएआइ ने 152डी नाम दिया है। यह हाइवे जींद जिले के 21 गांवों से गुजरेगा। इसके लिए 373 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण किया है।
जींद से दिल्ली से श्री माता वैष्णो देवी के आधार शिविर कटरा और दिल्ली तक का सफर करना आसान होगा। चार राज्यों को जोड़ने वाला बहुप्रतीक्षित दिल्ली-कटरा-अमृतसर एक्सप्रेस-वे भी जींद के 16 गांवों से होकर गुजरेगा। हरियाणा में यह सिक्स-लेन एक्सप्रेस-वे झज्जर जिले से शुरू होगा और रोहतक, सोनीपत, करनाल, जींद जिलों से होते हुए कैथल जिले में पंजाब की सीमा पर खत्म होगा। हाइवे में दोनों तरफ से गाड़ी को रोका जा सकता है। लेकिन एक्सप्रेस-वे में गाड़ी पूरी स्पीड में चलती है और दोनों तरफ से रोका नहीं जा सकता। इसमें दोनों लेन बाहर की साइड से बंद होंगी।
शहर में जाम की समस्या को खत्म करने के लिए बाईपास पर पिडारा के पास बनाए गए नए बस स्टैंड का निर्माण कार्य 99 फीसद पूरा चुका है। अब यहां फिनिशिग चल रही है। बस स्टैंड से बसों के बाहर निकलने व अंदर आने के लिए सर्विस लेन को बीएंडआर बनाएगा या एनएचएआइ, इस पर पेंच फंसा हुआ है। सर्विस लेन बनने के साथ ही नया बस अड्डा शुरू हो जाएगा।

बड़ा मील का पत्थर मेडिकल कॉलेज व सीआरएस विश्वविद्यालय

जींद के विकास में सबसे बड़ा मील का पत्थर मेडिकल कॉलेज व सीआरएस विश्वविद्यालय साबित होने वाले हैं। इन दोनों संस्थानों के बनने से जींद में हाई सैलरीड लोगों की संख्या में इजाफा होगा। सीआरएस यूनिवर्सिटी के विस्तार से बच्चों व शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक स्टाफ बढ़ेगा। इसका असर मार्केट से लेकर रेंटल बिजनेस पर भी पड़ेगा।
जींद के इतिहास में पहली बार चेयरपर्सन पूनम सैनी के कार्यकाल में शहर के विकास के लिए सबसे ज्यादा पैसा मंजूर हुआ। जींद ऐसा जिला है, जहां बरसाती पानी निकासी के लिए अलग से ड्रेनेज सिस्टम नहीं है। अब अमरूत योजना के तहत इस पर काम चल रहा है। बारिश व घरों के पानी से बार-बार उखड़ रही तारकोल की सड़कों की जगह ब्लॉक की सड़कें बनाई। बाहरी कालोनियों में सैकड़ों गलियां पक्की करवाई।
रोहतक बाईपास से भिवानी बाईपास के बीच ट्रक मार्केट के पास 109ए फाटक पर रेल ओवरब्रिज का काम भी अंतिम चरण में है। अगले एक-डेढ़ महीने में यह बनकर तैयार हो जाएगा। इसके अलावा रोहतक रोड बाईपास पर जेल के पास फाटक पर भी रेल ओवरब्रिज का थोड़ा काम बाकी है। सितंबर या अक्टूबर में यह बनकर चालू हो जाएगा। भिवानी से जींद तक 268 करोड़ से 10 मीटर चौड़ी हुई सड़क के टेंडर में इस ओवरब्रिज को शामिल किया गया है। उधर एनएचएआइ ने जींद से गोहाना तक सड़क को 10 मीटर चौड़ा करवाया जा रहा है। इसी टेंडर में पिडारा फाटक पर ओवरब्रिज का निर्माण शामिल है। अगले दो महीने में निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा। इधर बनखंडी से बीड़ की तरफ पुराने हांसी रोड पर रेलवे फाटक पर नेशनल हाइवे की तरफ से रेल ओवरब्रिज बनाया जा रहा है। इस पर 32.25 करोड़ रुपये खर्च होंगे।
शहर में देवीलाल चौक फाटक शहर को दो हिस्सों में बांटती है। दिन में कई बार यह फाटक बंद होने से यहां जाम लगता है। अब हैप्पी स्कूल से पुरानी अनाज मंडी की तरफ से सीधा आरयूबी का निर्माण शुरू हो गया है।
जींद के विधायक  डा. कृष्ण मिढ़ा ने कहा कि भाजपा सरकार ने जींद जिले के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी है। अभी जो शहर खुदा हुआ दिख रहा है, काम पूरा होने के बाद अगले कुछ महीनों में इसका अच्छा परिणाम भी देखने को मिलेगा। शहर की सभी सड़कें सुंदर बनाई जाएंगी। विकास के मामले में जींद अब रोहतक, हिसार व करनाल के समकक्ष दिखाई देगा।

Saturday, September 5, 2020

September 05, 2020

छह महीने से चल रहा था शराब ठेका, सीएम फ्लाइंग ने रेड मारी तो हुआ बड़ा खुलासा

छह महीने से चल रहा था शराब ठेका, सीएम फ्लाइंग ने रेड मारी तो हुआ बड़ा खुलासा

जींद: ( संजय तिरँगाधारी)जींद में सीएम फ्लाइंग की टीम ने एक अवैध शराब ठेके का भांडाफोड़ किया है। यह ठेगा निर्जन से पिंडारा लिंक रोड पर अवैध तरीके से चल रहा था। सीएम फ्लाइंग ने छापा मारा तो पता चला कि यह ठेका पिछले छह महीने से बिना किसी परमिशन के चल रहा था। अब आबकारी विभाग की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं।
फिलहाल सिविल लाइन थाना पुलिस ने शराब को कब्जे में ले शराब ठेकेदार के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी। सीएम फ्लाइंग को सूचना मिली थी कि गांव निर्जन से पिंडारा की तरफ जाने वाले मार्ग पर बिना अनुमति के शराब ठेका चल रहा है। सीएम फ्लाइंग के निरीक्षक कंवर सिंह के नेतृत्व में दस्ते ने ठेके पर छापेमारी की और वहां मौजूद सेल्जमैन से अनुमति से संबंधित कागजात मांगे तो वह दिखाने में नाकाम रहा। छापेमारी के दौरान आबकारी विभाग के निरीक्षक महावीर गौतम भी मौजूद रहे।
छापामार टीम ने मौके से लगभग दस पेट्टी अंग्रेजी, देशी तथा बीयर की बरामद की है। छापेमारी के दौरान लोगों की भीड़ भी जमा हो गई, जिसका फायदा उठाकर सेल्जमैन मौके से फरार हो गया। छानबीन के दौरान अवैध रूप से चल रहे शराब ठेके का मालिक गांव मनोहरपुर निवासी साधुराम का नाम सामने आया। सिविल लाइन थाना पुलिस ने आबकारी विभाग के निरीक्षक महावीर गौतम की शिकायत पर साधुराम के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी।
September 05, 2020

तीर्थों की नगरी में 31 अध्यापकों को मिला सम्मान राह ग्रुप फाउंडेशन व सिंथेसिस ने किया जींद के अध्यापकों को सम्मानित

तीर्थों की नगरी में 31 अध्यापकों को मिला सम्मान

राह ग्रुप फाउंडेशन व सिंथेसिस ने किया जींद के अध्यापकों को सम्मानित

जींद : ( संजय तिरँगाधारी ) शिक्षा के क्षेत्र में शानदार उपलब्धियों के लिए जींद ब्लॉक के 31 अध्यापकों को राह ग्रुप फाउंडेशन व सिंथेसिस संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित सम्मान समारोह में बेस्ट टीचर अवार्ड से सम्मानित किया गया। तीर्थ नगरी के मध्य स्थित मोती लाल नेहरु पब्लिक स्कूल के ऑडिटोरियम में आयोजित इस सम्मान समोराह की अध्यक्षता मोती लाल नेहरु पब्लिक स्कूल के चेयरमैन संदीप दहिया ने की, जबकि राह ग्रुप फाउंडेशन के चेयरमैन नरेश सेलपाड़ मुख्य अतिथि, जबकि सिंथेसिस संस्थान के हरियाणा कॉर्डिनेटर आशीष पुनिया व इम्पेक्ट डिफेंस एकेडमी के निदेशक इंजीनियर जोगेंद्र पुनिया अति विशिष्ठ अतिथि के तौर पर मौजूद रहे। पुरस्कार गृहण करने पहुंचे सभी अवार्डियों का स्कूल के प्राचार्य रविंदर कुमार व राह क्लब जींद की टीम ने गुलदस्ते भेंट करके स्वागत किया।
यह जानकारी देते हुए राह क्लब जींद के संयोजक गौरव आश्री ने बताया कि इस सम्मान समारोह में कोरोना काल के दौरान सराहनीय शिक्षा प्रदान करने व विगत तीन साल से बेहत्तरनीन शिक्षा परिणाम देने वाले अध्यापकों को सम्मानित किया गया। राह क्लबों के वरिष्ठ पदाधिकारी अजय श्योराण के अनुसार इन अवार्ड में से 20 फीसदी अवार्ड उन स्कूलों के अध्यापकों को प्रदान किए गए। जिन स्कूलों के विद्यार्थी राह ग्रुप की बहु प्रतिष्ठित एच.बी.टी.एस.ई परीक्षा, हिन्दी ज्ञान व 'हरियाणा को जानो' प्रतियोगिताओं में प्रदेश स्तर पर सराहनीय प्रदर्शन करते आ रहे हैं। उनके अनुसार इन परीक्षाओं का स्तर बेहद कठिन होता है और इनमें किसी स्कूल विशेष के विद्यार्थियों द्वारा 60 फीसदी से अधिक स्कोर करना ही बड़ी बात मानी जाती है। ध्यान हो कोराना काल के कारण इस बार संस्था छोटे-छोटे आयोजन कर रही है, इससे पहले संस्था एक साथ 400 से अधिक हस्तियों को एक मंच पर सम्मानित करती आ रही है। इससे पहले मुख्य अतिथि नरेश सेलपाड़ व अति विशिष्ठ अतिथि आशीष पुनिया ने सरस्वति वंदना करके सम्मान समारोह का आगाज किया।

क्या बोले मुख्य अतिथि:-
देश को आगे ले जाने में शिक्षक का बहुत बड़ा योगदान- नरेश सेलपाड़ 

जींद कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि पहुंचे राह ग्रुप फाउंडेशन के चेयरमैन नरेश सेलपाड़ ने कहा कि शिक्षक कि समाज में बहुत बड़ी भूमिका होती है। केवल किताबों का ज्ञान ही शिक्षक न दें बल्कि आजकल समाज में फैली बुराइयों को खत्म करने के लिए भी शिक्षक आगे आए, क्योंकि शिक्षक की भूमिका माता-पिता के बाद बहुत बड़ी भूमिका है। जिनकी बातों पर बच्चा अमल करता है । चेयरमैन श्री सेलपाड़ ने कहा कि देश के अंदर पाश्चात्य संस्कृति हावी होने के कारण हमारे संस्कार और संस्कृति में गिरावट आई है। इसलिए गुरु शिष्य में संस्कार और संस्कृति को तैयार करने के लिए भी अपनी मजबूत भूमिका को आगे लेकर आना होगा। इस दौरान उन्होंने कहा कि केवल देश को ही नहीं बल्कि दुनिया को आगे ले जाने में शिक्षक का बहुत बड़ा योगदान होता है। किसी भी देश की यदि नींव मजबूत करनी है तो उस देश के शिक्षक को मजबूत रखना बहुत जरूरी है । भारत देश धर्म गुरु का आदेश है दुनिया ने यहां से बहुत कुछ सीखा है।

Wednesday, September 2, 2020

September 02, 2020

कोविड-19 को लेकर व्यंग चित्र प्रदर्शनी लगाएंगे दीपक कौशिक

कोविड-19 को लेकर व्यंग चित्र प्रदर्शनी लगाएंगे दीपक कौशिक

जींद, 2 सितंबर (संजय तिरँगाधारी) : कोविड-19 पूरे विश्व को अपनी जकड़ में ले रखा है और पूरी मानव जाति इससे पीड़ित है। इस महामारी से लाखों लोग काल का ग्रास बन चुके हैं आम हो या खास कोरोना से नहीं बच पा रहा हैं। इसका उपचार केवल सजगता, सावधानी और जागरूकता ही है इसी कड़ी में संस्कार भारती हरियाणा प्रांत के चित्रकला प्रमुख दीपक कौशिक कोविड-19 कोरोना महामारी को लेकर एक व्यंग चित्रकला प्रदर्शनी के आयोजन की तैयारी में लगे हैं। जिसमें 80 से अधिक चित्रों का निर्माण किया जा रहा है। कोविड-19 से बचाव, इसकी भयानकता और चीन की मानसिकता पर सीधे व्यंग बाण छोड़ते हुए चित्रों की श्रृंखला तैयार की जा रही है साथ ही मास्क का प्रयोग, सामाजिक दूरी, आरोग्य एप जैसे संदेश को भी चित्र के माध्यम से दिखाने का प्रयास किया गया है। दीपक कौशिक इस प्रदर्शनी का आयोजन जींद नगर में जल्द ही करेंगे ताकि लोग, सजग और जागृत हो सके इससे पूर्व भी युवा चित्रकार ने लोक डाउन के दौरान अनेक चित्रों से लोगों को जागृति फैलाने का कार्य किया है लोकडाउन और अनलॉक की स्थिति में उन्होंने रोड पेंटिंग 700 फुट की लाइव पेंटिंग का आयोजन कर जन-जागृति अभियान चला चुके हैं उनकी एक ही मंशा है जीवन की कला मानव कल्याण में सदैव सहयोगी बनी रहे।
September 02, 2020

नई शिक्षा नीति से आ सकता है बदलाव

नई शिक्षा नीति से आ सकता हैं बदलाव

 

जींद : जाईट कॉलेज में शिक्षा नीति पर प्रैस कॉन्फ्रेस कीं गई जिसमें विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कीं गई जिसमें जींद शिक्षा सहयोग समिति के चेयरमैन शुभम जयहिंद ने बताया कीं नई शिक्षा नीति बच्चों में काफी बदलाव देखने को मिलेगा पुरानी शिक्षा नीति से बच्चों को क्या करना हैं यही नहीं पता होता था लेकिन नई शिक्षा नीति से अब बच्चा पाचवीं कक्षा तक अपनी मातृभाषा में शिक्षा ग्रहण कर सकेगा और छटी कक्षा के बाद से ही जिस फील्ड में जाना चाहता हैं उसका वह अध्यन कर सकेगा ये अहम हैं जो देश कीं शिक्षा नीति काफी बड़ा बदलाव साबित होगा।जाईट ग्रुप के डायरेक्टर अभिषेक बंसल ने बताया कीं सरकार को प्राइवेट इन्स्टिट्यूशन में भी स्किल्स एजुकेशन के ऊपर डेवलपमेंट के ऊपर ध्यान देने कीं बहुत जरूरत हैं पेरेन्ट्स को गोल सैटिंग पर विशेष ध्यान देने कीं आवश्यकता हैं। प्रिंसिप्ल जसविंदर कौर ने बताया कीं सरकार को निजी स्कूलों कीं तरफ ध्यान देने कीं बहुत जररूत हैं क्युकी हर कोई एक दूसरे पर डिपेंड हैं जब बच्चे स्कूलों कीं फीस नहीं दें पा रहे तो निजी स्कूलों को स्टाफ कीं सैलरी देने में सक्षम नहीं हैं जिसके लिए सरकार को विशेष ध्यान देने कीं आवश्यकता हैं। वहीं ईशा जिंदल ने बताया कीं ऑनलाइन क्लास एक मिडिल क्लास के लिए बहुत बड़ी समस्या हैं बच्चों के अंदर इस से दुष्प्रभाव काफी देखने को मिल रहे हैं।
September 02, 2020

नेटवर्किंग कंपनी का फर्जीवाड़ा:बड़े होटलों में कार्यक्रम कर अमीर बनने और विदेश यात्रा का सपना दिखा फंसाते थे, कई राज्यों से जुड़े थे ओएलएस ह्वीज कंपनी में ग्राहक

नेटवर्किंग कंपनी का फर्जीवाड़ा:बड़े होटलों में कार्यक्रम कर अमीर बनने और विदेश यात्रा का सपना दिखा फंसाते थे, कई राज्यों से जुड़े थे ओएलएस ह्वीज कंपनी में ग्राहक

सोने के सिक्कों का वादा कर 42 हजार लोगों से 16 करोड़ हड़पे : शिकायतकर्ता, पंजाब में रकम न चुकाने पर कंपनी के 2 एमडी गिरफ्तार, सीईओ फरार

जींद : ( गौतम सत्यराज ) ओएलएस ह्वीज नेटवर्किंग कंपनी पर पंजाब के बाद हरियाणा के भी 42 हजार से ज्यादा लोगों से निवेश के नाम पर करीब 16 करोड़ रुपए ठगने के आरोप हैं। पहले समय पर हो रही प्रोडक्ट की डिलीवरी से ग्राहकों को उम्मीद थी कि कोरोनाकाल खत्म होने के बाद उन्हें सोने की सिक्के की डिलीवरी मिल जाएगी, लेकिन कंपनी इससे पहले ही ऑफिस पर ताले लगाकर फरार हो गई। वहीं, कंपनी के फर्जीवाड़े की चपेट में पंजाब के भी हजारों लोग आए हैं।
17 जुलाई को जालंधर में ओएलएस कंपनी के एमडी रणजीत सिंह, गगनदीप सिंह व सीईओ गुरविंद्र सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज हो चुका है। 21 जुलाई को पुलिस ने एमडी रणजीत व गगनदीप को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था, लेकिन मामले का तीसरा आरोपी कंपनी का सीईओ गुरविंद्र सिंह फरार है। वर्ष 2014 से शुरू हुई ओएलएस ह्वीज कंपनी का नेटवर्किंग कारोबार वर्ष 2019 तक खूब चला। इस दौरान कई प्रदेशों से लोग इससे जुड़े लेकिन दिसंबर 2019 के बाद कंपनी निवेश की गई राशि पर न तो समय पर प्रोडक्ट दे पाई और न ही राशि वापस कर पाई। शिकायतकर्ता सज्जन सिंह ने दावा किया कि प्रदेश के 42 हजार से ज्यादा लोग पिछले साल दिसंबर 2019 तक कंपनी से जुड़ चुके थे, जिन्हें देखकर अन्य लोग फंस जाते थे।
कंपनी ने एक हजार रुपए की प्रतिमाह किस्त जमा कराने का काम किया। 11 किस्त ग्राहक द्वारा और एक किस्त कंपनी द्वारा जमा कराई जाती थी। किस्तें पूरी होने पर घरेलू इलेक्ट्राॅनिक्स प्रोडेक्ट्स देते थे। जो 50 नए ग्राहक जोड़ देता था, उसे डिस्ट्रीब्यूटर का पद मिलता था। प्रति किस्त 100 रुपए का कमीशन कंपनी देती थी। ज्यादा ग्राहक जोड़ने पर पदोन्नति दी जाती थी। वर्ष 2018 में कंपनी ने इलेक्ट्राॅनिक्स प्रोडक्ट के साथ सोने के सिक्के की स्कीम दी। किस्त 2 हजार रुपए कर दी गई। इस स्कीम के झांसे में ज्यादा ग्राहक आ गए। शुरुआत में कुछ ग्राहकों को 11 किस्तों के रूप में 22 हजार की राशि जमा कराने पर कंपनी द्वारा 24 कैरेट सोने के सिक्के भी दिए गए, लेकिन बाद में जुड़े काफी ग्राहकों को सोने के सिक्के नहीं मिल पाए।

रिश्ते में आरोपी जीजा-साला, किया पूरा फ्रॉड

ओएलएस ह्वीज नेटवर्किंग कंपनी को पंजाब के जालंधर के रहने वाले 3 जीजा-साला मिलकर चला रहे थे। पंजाब पुलिस ने एमडी रणजीत सिंह व गगनदीप को गिरफ्तार किया तो पता चला कि रणजीत और गुरविंद्र रिश्ते में गगनदीप के जीजा लगते हैं।

लालच में आ लोग जुड़े थे कंपनी से : डीएसपी

डीआईजी के आदेश पर जांच में सामने आया कि प्रदेश के दूसरे जिलों से भी काफी लोग ज्यादा कमाई के लालच में जुड़े हैं। कंपनी ने विदेश यात्रा से लेकर तरह-तरह के प्रलोभन दिए गए। पंजाब में भी ऐसा ही है-जितेंद्र सिंह, डीएसपी जींद।

अकेले जींद के 15 ग्राहकों ने पुलिस को दी शिकायत

कंपनी ओएलएस ह्वीज हजारों लोगों के करोड़ों रुपए लेकर फरार हो गई। टारगेट पूरा होने पर विदेश यात्रा के लिए 50 हजार में वीजा लगवाने के नाम पर कंपनी ने खूब पैसे ऐंठे थे। जींद के 15 लोगों की शिकायत पर सिविल लाइन थाना पुलिस ने जालंधर के एमडी रणजीत सिंह, गगनदीप सिंह व सीईओ गुरविंद्र सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। पंजाब ओएलएस ह्वीज प्रा. लिमिटेड नेटवर्किंग कंपनी के ग्राहक रहे सज्जन मलिक, रमेश चंद्र मलिक, अरुण कुमार समेत 15 व्यक्तियों ने एसपी को पिछले दिनों शिकायत कर बताया था कि कंपनी चेन बनाकर ग्राहकों को पहले इलेक्ट्राॅनिक्स और फिर सोने के सिक्के बेचती थी। सोने के सिक्के के लिए हर ग्राहक से हर माह 2 हजार रुपए जमा कराती थी। कंपनी द्वारा 11 किस्तें जमा कराने पर एक किस्त उसके द्वारा जमा कराने का प्रावधान किया गया था। उनकी कई माह पहले ही किस्तें जमा करने का समय हो पूरा चुका है, लेकिन न तो प्रोडक्ट मिला और न राशि।

Tuesday, September 1, 2020

September 01, 2020

कोरोना संकट : प्रदेश में एक दिन में 20 मौतें, 1479 नए मरीज मिले, विधायक मिड्ढा व पूर्व परिवहन मंत्री पंवार पॉजिटिव

कोरोना संकट : प्रदेश में एक दिन में 20 मौतें, 1479 नए मरीज मिले, विधायक मिड्ढा व पूर्व परिवहन मंत्री पंवार पॉजिटिव

संक्रमितों की संख्या 65 हजार पार, मौतों का आंकड़ा 727 हुआ, पानीपत में आए सबसे ज्यादा 190 केस, फतेहाबाद व सिरसा में 3-3 मरीजों की जान गई

चंडीगढ़ : प्रदेश में कोरोना के केस तेजी से बढ़ रहे हैं। सोमवार को 1479 नए मरीज मिले। पानीपत में सबसे ज्यादा 190 नए केस आए हैं। जींद के विधायक कृष्ण मिड्ढा व पानीपत में पूर्व परिहवन मंत्री कृष्ण पंवार भी कोरोना संक्रमित मिले हैं। चंडीगढ़ सचिवालय में 7 और कर्मचारी पॉजिटिव पाए गए हैं। अब संक्रमितों की कुल संख्या 65651 हो गई है। पिछले 24 घंटे में 20 मरीजों की जान चली गई। एक दिन में कोरोना से होने वाली मौतों का यह दूसरा सर्वाधिक आंकड़ा है।
इससे पहले 16 जून को एक ही दिन में 21 लोगों की मौत हो गई थी। अगस्त माह में मौतों की यह संख्या अब तक की सबसे ज्यादा है। सोमवार को 11 जिलों में कोरोना से मौतें हुई हैं। फतेहाबाद, सिरसा में सबसे ज्यादा 3-3 मौतें हुईं। यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, कैथल करनाल, रोहतक में 2-2 और पानीपत, रेवाड़ी, फरीदाबाद, पंचकूला में 1-1 मरीज की जान गई है।
इससे मरने वालों की संख्या 727 हो गई है। एक दिन में 1052 लोग ठीक होकर लौटे हैं। अब तक 51946 लोग ठीक हो चुके हैं। अब 12978 सक्रिय मरीज हैं। उधर, सीएम मनोहर लाल गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में ही भर्ती हैं। सोमवार को फिर से उनका कोरोना टेस्ट किया गया, जिसकी मंगलवार को रिपोर्ट आनी है।

यहां नए मरीज मिले

पानीपत में 190, करनाल में 157, सोनीपत में 131, अम्बाला में 114, गुड़गांव में 113, फरीदाबाद में 103, पंचकूला में 78, रोहतक में 74, यमुनानगर, महेंद्रगढ़ में 60-60, कुरुक्षेत्र में 57, हिसार में 56, भिवानी, कैथल में 48-48, रेवाड़ी में 39, झज्जर में 38, सिरसा में 30, पलवल में 24, जींद में 21, दादरी में 18, फतेहाबाद में 12, नूंह में 8 नए मरीज मिले हैं।

यहां ठीक हुए

यमुनानगर में 120, फरीदाबाद में 108, हिसार में 100, रोहतक में 90, गुड़गांव में 84, करनाल में 81, पानीपत में 80, सोनीपत में 64,रेवाड़ी में 62, कुरुक्षेत्र में 57, अम्बाला में 45, महेंद्रगढ़ में 43, भिवानी में 32, पंचकूला में 30, कैथल में 20, पलवल में 16, झज्जर में 12, सिरसा में 11, नूंह में 6 फतेहाबाद में 5 मरीज ठीक हुए।